यूपी जन्म| मृत्यु |प्रमाण पत्र |ऑनलाइन आवेदन|उत्तर प्रदेश जन्म, मृत्यु  प्रमाणपत्र |अब घर बैठे लें जन्म ,मृत्यु  प्रमाणपत्र|

नमस्कार दोस्तों हमारे लिए एक जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र का होना बहुत ही जरुरी है जिसके बारे में हमने पिछली पोस्ट में अच्छे से बताया है.   जन्म व मृत्यु  प्रमाण पत्र कैसे कराये ?  नही पढ़ा है तो उसे जरुर पढ़े जिसमे आपको जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी और आप जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के बारे में सभी सवालों के जबाब भी जान पाओगे. दोस्तों जैसा की आप जानते है की आज इन्टरनेट का जमाना है इस लिए हमें इन्टरनेट से होने वाले काम की पूरी जानकारी होना जरुरी है|

. आज इस पोस्ट में हम जानेगे की ऑनलाइन जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र कैसे करे |नगर निगम में मैनुअल बनने वाले जन्म और मृत्यु प्रमाण का ‘खेल’ अब एक मार्च से पूरी तरह खत्म हो जाएगा। अब पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन ही होगी, कोई भी मैनुअल प्रमाण पत्र नहीं जारी किया जा सकेगा। डिजिटल सिग्नेचर के जरिए ऑनलाइन की प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश शासन ने जारी कर दिए हैं। नगर विकास सचिव ने इस संबंध में स्पष्ट आदेश दिए हैं। इसके साथ डुल्लीकेट प्रति भी प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन ही आवेदन करना होगा|

यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र

मृत्यु प्रमाण पत्र प्रक्रिया का निरीक्षण के बाद टीम में शामिल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ मैनेजमेंट रिसर्च के प्रोफेसर डॉ। दया कृष्ण मंगल ने बताया कि विजन 2020 के अंतर्गत तीनों शहरों में लागू व्यवस्था का अध्ययन करने के बाद सुझाव देंगे। जिससे पंजीकरण प्रक्रिया में तेजी आए। बताया कि यहां सबसे समस्या जागरुकता का अभाव है। लोगों का पंजीकरण की सेवाएं सर्वसुलभ हो, ऑन लाइन प्रक्रिया का सरलतम उपयोग हो। इससे अधिक से अधिक लोग जन्म- मृत्यु का प्रमाण पत्र कराने में दिलचस्पी दिखाएंगे।

जन्म और मृत्यु के रजिस्ट्रेशन के लिए पब्लिक अभी भी जागरूक नहीं है। जिसके चलते जन्म दर और मृत्यु दर की सही आंकड़े सरकार को नहीं उपलब्ध हो पा रहे है। नगर निकायों में ऑफ लाइन ही प्रमाण पत्र जारी किए जा रहे हैं। पंजीयन को लेकर जागरुकता न होने से लोगों की इस संबंध में कोई दिलचस्पी नहीं है। इस पर भारत के महारजिस्ट्रार ने निर्णय लिया है कि विजन- 2020 के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में शत प्रतिशत प्रमाण पत्र सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए भारत सरकार के माध्यम से उच्च स्तरीय टीम का गठन किया गया है। इस टीम में भारत सरकार के अधिकारियों के साथ स्वास्थ्य महानिदेशालय व जनगणना कार्य निदेशालय तथा यूनिसेफ के अधिकारी शामिल है|

उत्तर प्रदेश मृत्यु प्रमाण पत्र एप्लीकेशन फॉर्म पीडीएफ

सम्बंधित विभाग यूपी ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल
लाभार्थी राज्य के नागरिक
 आधिकारिक वेबसाइट   यहां क्लिक करें

यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र के लाभ

  इसके पीछे मुख्य मकसद लोगों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने से बचना है।नगर विकास विभाग में हुई बैठक के मुताबिक जैसे फार्म व प्रमाण पत्र शुल्क किस शुल्क किस तरह से लिया जाएगा, शुल्क लिया जाए या ना लिया जाए, देरी होने पर शपथ पत्र किस तरह से मांगा जाएगा और प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज आवेदक से कैसे प्राप्त किए जाएंगे।

 ऐसे में जब ऑनलाइन व्यवस्था शुरू हो जाएगी तो प्रमाण पत्र और फार्म शुल्क समाप्त किया जा सकता है। जिसके बाद आवेदक को जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए कोई शुल्क अदा नहीं करना पड़ेगा।यह है व्यवस्था– जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए 21 दिन के अंदर कोई शुल्क नहीं है।- 21 से 30 दिन के अंदर इसे बनवाने पर अभी 2 रुपये शुल्क देना होता है।- एक माह से एक साल के अंदर बनवाने के लिए प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट से आदेश कराना होता है।

मृत्यु को कौन पंजीकृत कर सकता है?

किसी व्यक्ति की मृत्यु को मृत्यु की तारीख से 21 दिनों के भीतर पंजीकृत किया जाना चाहिए। उत्तर प्रदेश में मृत्यु के पंजीकरण के लिए निम्नलिखित व्यक्ति जिम्मेदार है:

  • यदि घर में मृत्यु होती है, तो घर का मुखिया संबंधित रजिस्ट्रार कार्यालय में मृत्यु को पंजीकृत करने के लिए पात्र है।
  • यदि मृत्यु अस्पताल में होती है, तो चिकित्सा संस्थान द्वारा अधिकृत एक व्यक्ति संबंधित रजिस्ट्रार कार्यालय में मृत्यु को दर्ज / दर्ज करने के लिए जिम्मेदार होता है।
  • यदि जेल में मृत्यु होती है, तो जेल प्रभारी संबंधित रजिस्ट्रार कार्यालय में मृत्यु को पंजीकृत कर सकता है।
  • यदि किसी सार्वजनिक स्थान पर मृत्यु होती है, तो स्थानीय पुलिस प्रभारी या गांव का मुखिया मृत्यु को रिकॉर्ड कर सकता है।

Mrityu Praman Patra Uttar Pradesh Document

यूपी मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज –

  • Application Form (आवेदन पत्र)
  • Ration card (राशन कार्ड)
  • Passport size photo of deceased person (मृतक व्यक्ति का पासपोर्ट साइज फोटो)
  • Affidavit (शपत पत्र)
  • Identity Card (Aadhar Card, Voter Card) पहचान पत्र (आधार कार्ड, वोटर कार्ड )

यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन इस वेबसाइट पर क्लिक करें 

How to Apply for UP Birth & Death Certificate)

  1. Visit official website

    उत्तर प्रदेश जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र के आवेदन (Uttar Pradesh Birth & death Certificate Application)के लिए आपको संबंधित विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट को विजिट करना होता है।

  2. Click UP Birth & Death Certificate

    वेबसाइट ओपन करने के बाद आपको यूपी जन्म प्रमाण एवं मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदन (Apply for UP Birth & death Certificate) की लिंक पर क्लिक करना होगा।

  3. Check application form

    लिंक पर क्लिक करते ही आवेदन पत्र आपके सामने होगा।

  4. Enter compulsory details

    आप इसमें मांगी सभी जानकारिया सही रूप से प्रविष्ट कर दे।

  5. Attached required documents

    अब अगर किसी दस्तावेज की मांग आवेदन पत्र के साथ की गयी है तो वह भी इसके साथ अवश्य संलग्न करे।

  6. Click submit button

    ऐसा करने के उपरांत अंत में सबमिट बटन दबाकर आवेदन पत्र (UP Birth & Death Certificate Application Form) को जमा करवा दे।

  7. Print application form

    अंत में अपने आवेदन पत्र का प्रिंट लेना ना भूलें। इसकी आवश्यकता बाद में आपको पड़ सकती है।

Click Here to Visit Official Website

इस पेज पर हमने उत्तर प्रदेश जन्म- मृत्यु प्रमाण पत्र 2020 (Uttar Pradesh Birth & Death Certificate 2021) से जुडी महत्वपूर्ण जानकारियां आपके साथ साझा करने का प्रयास किया है। उम्मीद करते है यह जानकारी आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी।

दोस्तों आपको यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन योजना किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

28 thoughts on “यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन| uttar pradesh How To Register A Birth OR Death In Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *