उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना|उत्तर प्रदेश निशुल्क बोरिंग योजना| निशुल्क बोरिंग योजना उत्तर प्रदेश|उत्तर प्रदेश फ्री बोरिंग योजना| यूपी मुफ्त बोरिंग योजना| मुफ्त बोरिंग योजना यूपी|

उत्तर प्रदेश के प्यारे देशवासियों उत्तर प्रदेश सरकार ने मुफ्त बोरिंग योजना की शुरुआत की है इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के लोग अब मुफ्त बोरिंग योजना का लाभ ले सकते हैं| इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के लोग निशुल्क बोरिंग करवा कर अपने खेतों की सिंचाई और खेती को बढ़ावा दे सकते हैं इसलिए आप भी यू पी मोस्ट बोरिंग योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं| प्यारे दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि भारत एक कृषि प्रधान देश है| और भारत की सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य यूपी है|

यूपी में ज्यादातर लोग खेती करते हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा चलाई गई उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना के तहत उत्तर प्रदेश के लोगों को निशुल्क बोरिंग की जाएगी इस योजना से अपने खेतों की सिंचाई और अपने सब्जी और पैदावार को बढ़ावा दे सकते हैं| इस योजना से वह अपने खेत या आसपास में बोरिंग करवा कर अपने व्यवसाय को अधिक बढ़ावा दे सकते हैं| इससे किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान होगी और किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी इसलिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने मुफ्त बोरिंग योजना की है| ताकि किसानो के जीवन को ऊपर उठाया जा सके आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से यूपी मुफ्त बोरिंग योजना के बारे में आपको बताएंगे|

उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना

उत्तर प्रदेश मौसम बोरिंग योजना के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बहुत बड़ी पहल की है| इसे पहले योगी आदित्यनाथ जी ने किसानों का कर्ज माफ कर किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान की थी| आप निशुल्क बोरिंग योजना उत्तर प्रदेश से किसानों के लिए एक और अहम कदम उठाया है| उत्तर प्रदेश श्री बोरिंग योजना से यूपी के किसानों को एक वित्तीय सहायता प्रदान होगी जिसके तहत वे अपने खेत मैं निशुल्क बोरिंग करवा कर अपने सब्जी फलों और खेती के लिए फसलों को पानी दे सकते हैं| जैसा कि आप जानते हैं कि ऐसा भी समय आता है कि जब हर जगह पानी की कमी होती है और उसने पानी की वजह से पूछ नहीं पाती और किसानों को बड़ी ज्यादा हानि होती है| लेकिन अब ऐसा नहीं होगा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा उत्तर प्रदेश फ्री बोरिंग योजना के तहत उत्तर प्रदेश के किसान यूपी मुफ्त बोरिंग योजना का लाभ उठाकर अपने खेत में बोरिंग करवा कर अपनी फसलों सब्जियों को बड़े पैमाने पर उतर कर देख फायदा लाभ उठा सकते हैं|

इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने किसानों को बहुत बड़ा लाभ दिया है| ताकि यूपी के किसान का जीवन कुछ हो सके और गरीबी से ऊपर उठ सके इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने मुफ्त बोरिंग योजना यूपी किस बात की है| इसलिए जो भी आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना में ऑनलाइन आवेदन करना चाहता है| हमारे इस आर्टिकल को विस्तारपूर्वक पड़े हम इस आर्टिकल में आपको विस्तार पूर्वक बताएंगे कि आप किस प्रकार यूपी मुफ्त बोरिंग योजना में ऑनलाइन आवेदन रजिस्ट्रेशन पंजीकरण करवा सकते हैं| और इस योजना के लिए क्या जरूरी पात्रता और कागजात हैं सभी की जानकारी आपको हमारी इस आर्टिकल के माध्यम से प्राप्त होगी इसलिए हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें|

सामान्य जाति के लघु एवं सीमान्त कृषकों हेतु अनुदान

इस योजना मे सामान्य श्रेणी के लघु एवं सीमान्त कृषकों हेतु बोरिंग पर अनुदान की अधिकतम सीमा क्रमशः रू0 5000.00 व रू0 7000.00 निर्धारित है। सामान्य लाभार्थियों के लिये जोत सीमा 0.2 हेक्टेयर निर्धारित है। सामान्य श्रेणी के कृषकों की बोरिंग पर पम्पसेट स्थापित करना अनिवार्य नहीं है, परन्तु पम्पसेट क्रय कर स्थापित करने पर लघु कृषकों को अधिकतम रू0 4500.00 व सीमान्त कृषकों हेतु रू0 6000.00 का अनुदान अनुमन्य है।

अनुसूचित जाति/जनजाति कृषकों हेतु अनुदान

अनुसूचित जाति/जनजाति के लाभार्थियों हेतु बोरिंग पर अनुदान की अधिकतम सीमा रू0 10000.00 निर्धारित है। न्यून्तम जोत सीमा का प्रतिबंध तथा पम्पसेट स्थापित करने की बाध्यता नहीं है। रू0 10000.00 की सीमा के अन्तर्गत बोरिंग से धनराशि शेष रहने पर रिफ्लेक्स वाल्व, डिलिवरी पाइप, बेंड आदि सामग्री उपलब्ध कराने की अतिरिक्त सुविधा भी उपलब्ध है। पम्पसेट स्थापित करने पर अधिकतम रू0 9000.00 का अनुदान अनुमन्य है।

एच.डी.पी.ई.पाइप हेतु अनुदान

वर्ष 2012-13 से जल के अपव्यय को रोकने एवं सिंचाई दक्षता में अमिवृद्धि के दृष्टिकोण से कुल लक्ष्य के 25 प्रतिशत लाभार्थियों को 90mm साईज का न्यूनतम 30मी0 से अधिकतम 60 मी0 HDPE Pipe स्थापित करने हेतु लागत का 50 प्रतिशत अधिकतम रू0 3000.00 का अनुदान अनुमन्य कराये जाने का प्राविधान किया गया है। कृषकों की माँग के दृष्टिगत शासनादेश संख्या-955/62-2-2012 दिनांक 22 मार्च 2016 से 110 mm साईज के HDPE Pipe स्थापित करने हेतु भी अनुमन्यता प्रदान कर दी गयी है।

पम्पसेट क्रय हेतु अनुदान

निःशुल्क बोरिंग योजना के अन्तर्गत नाबार्ड द्वारा विभिन्न अश्वशक्ति के पम्पसेटों के लिए ऋण की सीमा निर्धारित है जिसके अधीन बैकों के माध्यम से पम्पसेट क्रय हेतु ऋण की सुविधा उपलब्ध है। जनपदवार रजिस्टर्ड पम्पसेट डीलरों से नगद पम्पसेट क्रय करने की भी व्यवस्था है। दोनों विकल्पो में से कोई भी प्रक्रिया अपनाकर ISI मार्क पम्पसेट क्रय करने पर अनुदान अनुमन्य है।

उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना के लिए पात्रता

  • आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए|
  • जो भी आवेदनकर्ता मुफ्त बोरिंग योजना में आवेदन करना चाहता है वह किसान होना चाहिए|
  • जिन किसानो के पास 0.2 हेक्टेयर भूमि होगी वह भी इस के लिए पात्र होंगे|

उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना जरूरी दस्तावेज

  • आवेदनकर्ता के पास आधार कार्ड का होना अनिवार्य हैं|
  • आवेदन करने के लिए अपने किसान बुक होना अनिवार्य है|
  • आवेदनकर्ता को अपनी जमीन का नक्शा या खेत का विवरण देना अनिवार्य होगा|

उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना ऑनलाइन आवेदन

  • उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करिए|
  • इस वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद आपको उत्तर प्रदेश निशुल्क का आवेदन पत्र लिंक दिखाई देगा|
  • उस लिंक पर क्लिक करिए अब पूछी गई जानकारी को ध्यान पूर्वक भरिए|
  •  सबमिट बटन पर क्लिक करिए|
  • अब आप का फॉर्म भरा हुआ माना जाएगा|

प्यारे दोस्तों उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना ऑनलाइन आवेदन की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो हमारे कमेंट बॉक्स पर अपना प्रश्न लिख दीजिए| हम उसका उत्तर अवश्य देंगे आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

 

35 thoughts on “[आवेदन] उत्तर प्रदेश मुफ्त बोरिंग योजना| ऑनलाइन”
  1. महोदय हमें जिला चित्रकूट के कृषि विभाग में जाके पता किए हैं तो कह रहे हैं कि सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना है ही नहीं है कृषि विभाग में यह कह रहे हैं तो आप हमें यह बताइए हम क्या करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *