यूपी दाखिल खारिज बैनामा ऑनलाइन

दाखिल खारिज up|दाखिल खारिज online up|दाखिल खारिज उत्तर प्रदेश|दाखिल खारिज के नियम उत्तर प्रदेश|up land registration online|up land registry online in hindi|

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल मैं यूपी दाखिल खारिज बैनामा ऑनलाइन की जानकारी देने जा रहे हैं| हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार घर बैठे ऑनलाइन दाखिल खारिज up कर सकते हैं| उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी यूपी के लोगों को डिस्टल बनाने के लिए दाखिला खारिज की प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है|उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दाखिल खारिज बैनामा प्रक्रिया को अब ऑनलाइन कर दिया गया है। इससे राज्य के लोग बहुत ही उत्साहित हैं। और ऑनलाइन दाखिल खारिज प्रक्रिया का बढ़ चढ़ के उपयोग कर रहे हैं। दाखिल खारिज राजस्व विभाग द्वारा ऑनलाइन होने से राज्य के लोगों को कार्यालओं के चकार लगाने से मुक्ति मिल गई है। क्योंकि यह दस्तावेज किसी भी सम्पत्ति के लिए सबसे अहम दस्तावेज है। इसलिए भविष्या के दुष्प्रभाव को देखते हुए आपको आपकी संपत्ति के सारे दस्तावेज पूरे रखने चाहिए।

ताकि हमको यहां वहां के चक्कर ना काटने पड़े| दाखिल खारिज ऑनलाइन यूपी होने से कालाबाजारी में कमी आयेगी| इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने इस दाखिल खारिज उत्तर प्रदेश प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है|दाखिल ख़ारिज या म्युटेशन राजस्व रिकॉर्ड में एक व्यक्ति से एक संपत्ति का हस्तांतरण दूसरे व्यक्ति के नाम में करने की प्रक्रिया को कहा जाता है|दाखिल ख़ारिज ज़रूर करवा लेना चाहिए क्योंकि इसके बाद ही क़ानूनी टूर पर एक व्यक्ति अपनी जमीन का मालिक बन पाता है|

यूपी दाखिल खारिज बैनामा ऑनलाइन

दाखिल ख़ारिज या म्युटेशन की वजह से है कि एक संपत्ति के के मालिक के रूप एक व्यक्ति का नाम रिकार्ड में आता है| अगर दाखिल ख़ारिज या म्युटेशन नहीं हुआ है| तो किसी तरह के बिजली या पानी बिल का कनेक्शन निगम या प्राधिकरण या संबंधित कार्यालय से कब्ज़ा पत्रलेकर प्राप्त किया जा सकता है|म्यूटेशन का मतलब होता है भूमि के सामित्व का एक से दूसरे के नाम में होना। या जिसे टाइटल का बदलना। वास्तव में दाखिल खारिज को ही म्युटेशन कहा जाता है। अर्थात दोनों एक ही चीज़ हैं। इसमें सरकारी राजस्व दस्तावेजों में संपत्ति पूराने नाम से हटाकर ने नए मालिक के नाम में किया जाता है। यदि दुर्भाग्यवश भू स्वामी या संपत्ति के मालिक की मृत्यु हो जाती है तो इस इस्तिथि में भी दाखिल खरिज कराना अनिवार्य हो जाता है। 

प्यारे दोस्तों हमारी इस पोस्ट को ध्यान पूर्वक से पढ़िए| हम अपनी पोस्ट में दाखिल खारिज के नियम उत्तर प्रदेश की संपूर्ण जानकारी देंगे| आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार घर बैठे ऑनलाइन up land registration online कर सकते हैं|

यूपी दाखिल खारिज बैनामा ऑनलाइन फॉर्म | UP Dakhil, Kharij, Benama Online 

  • up land registry online  करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करिए|
  • अब जिनक पर क्लिक करने के बाद ऑफिसियल वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा। यहाँ आपको एक ऑप्शन दिखेगा जिसमे लिखा होगा  ‘नामांतरण(दाखिल – ख़ारिज ) हेतु “उत्तर प्रदेश राजस्व संहिता – 2006” की “धारा 34” के अन्तर्गत ऑनलाइन आवेदन के लिए’ अब आप इस विकल्प में क्लिक करें

  • विकल्प में क्लिक करने के पश्चात वेबसाइट का नया पेज खुलेगा। जैसे की नीचे दिखाया गया है। यहाँ आपको लॉगिन करना है। या लॉगिन बनाना है। इसप्रकार अब आप लॉगिन वाला विकल्प का चयन करें।
  • अब क्लिक करते ही वेबसाइट का नया पेज खुल जायेगा। जिसमे आपको एक फॉर्म दिखेगा। इसमें आपको जरूरी जानकारियां भरने के बाद रजिस्टर करना होगा। अकाउंट का यूजर आईडी और पासर्वड कहीं रख लें। अब आगे आपको लॉगिन करना है।

  • अब वेबसाइट में जाकर लॉगिन करें ।
  • लॉगिन करते ही आपको दाखिल खारिज फॉर्म का विकल्प दिखेगा, अब इसमें क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही नया फॉर्म खुलेगा इसमें कुछ जानकारियां पूछी जायेंगीं उन्हें भरके सबमिट का बटन को दबाएं।
  • अब इस प्रक्रिया से दाखिल खारिज (म्युटेशन) पूरा हो जायेगा। और वेरिफिकेशन के बाद आपने नाम राजस्व विभाग के आंकड़ो में दर्ज हो जायेगा।

प्यारे दोस्तों यूपी दाखिल खारिज बैनामा ऑनलाइन की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप ही से संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं हमारे कमेंट बॉक्स लिख दीजिए| हम उसका उत्तर अवश्य देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं| इसे आप उत्तर प्रदेश की योजनाओं के साथ अपडेट रहेंगे|

75 thoughts on “यूपी दाखिल खारिज बैनामा ऑनलाइन|संपूर्ण जानकारी”
    1. सर मैने 1998 में एक 100गज का प्लॉट खरीदा था उस समय हमने एक इकरार नामा किया था बाद में 2002 में उस पर मकान बना लिया तथा अभी तक उसकी रजिस्ट्री नहीं कर पाए जबकि बिजली और हाउस टैक्स जमा कर रहे हैं अब हम रजिस्ट्री करवाना चाहते हैं लेकिन जिसने बेचा था वह कह रहा है मैं इतना टैक्स नहीं दे सकता तो हम रजिस्ट्री अपने नाम पर कैसे करवाएं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.