Tau Te Tufan Rajasthan

tauktae cyclone rajasthan|tau te tufan|toofan in rajasthan|ताऊ ते|तूफान ताऊ-ते

अरब सागर से उठ रहे चक्रवात ताउते (cyclone tauktae) का असर राजस्थान में भी देखने को मिलेगा। यहां कई जिलों में आंधी के साथ अतिभारी बरसात होने की संभावना है। जिसका असर 18 व 19 मई को ज्यादा दिखेगा। मौसम विज्ञान केंद्र ने इसके लिए अलर्ट जारी कर दिया है। विभाग के अनुसार उदयपुर, कोटा व जोधपुर संभाग में रविवार को ही इसका असर शुरू हो जाएगा। जहां तेज हवाओं के साथ हल्की बरसात होने की उम्मीद है। मौसम विभाग जयपुर के प्रभारी आर एस शर्मा के अनुसार चक्रवाती तूफान ताउते 11 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उत्तर उत्तर पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ रहा है और इसके बढऩे की रफ्तार तेज होती जाएगी। ताऊ ते के कारण रविवार को उदयपुर, कोटा और जोधपुर संभाग के जिलों में थंडरस्टॉर्म व अचानक तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है।

Tau Te Tufan Rajasthan

16 मई: पूर्व राजस्थान के बांसवाड़ा, बूंदी, चित्तौडगढ़़, डूंगरपुर, झालावाड़ कोटा, प्रतापगढ़ तथा उदयपुर तथा पश्चिमी राजस्थान में जालौर व पाली जिले में कहीं-कहीं मेघ गर्जन व 30 से 40 किलोमीटर रफ्तार की धूल भरी आंधी के साथ हल्की बरसात हो सकती है।

17 मई: पूर्वी राजस्थान के अजमेर, बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौडगढ़़, डूंगरपुर, झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, उदयपुर जिलों में वज्रपात के साथ 30 से 40 किमी रफ्तार की आंधी के साथ एक-दो स्थानों पर बारिश तथा भारी बारिश की संभावना है। इसी तरह पश्चिम राजस्थान में पाली, जालौर, बाड़मेर जिलों में कहीं-कहीं वज्रपात के साथ 30 से 40 किलोमीटर की हवा चल सकती है।

18 मई: पूर्वी राजस्थान के अलवर, भरतपुर, धौलपुर, जयपुर, कोटा, सवाईमाधोपुर, सिरोही जिलों में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा तथा कई स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। जबकि पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, पाली, जालौर, जैसलमेर, बाड़मेर नागौर जिलों में कहीं-कहीं 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है। बाड़मेर, जैसलमेर, जालौर व पाली जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है।

19 मई : पूर्वी राजस्थान के सीकर, अजमेर, अलवर, भरतपुर, भीलवाड़ा, दौसा, धौलपुर, जयपुर व झुंझुनू जिलों में कहीं-कहीं पर मेघ गर्जन तथा 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ एक दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। जबकि पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, जोधपुर, नागौर, पाली, गंगानगर जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश के साथ अचानक 40 से 50 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चल सकती है। यहां बाड़मेर , जैसलमेर, जोधपुर, नागौर व पाली जिलों में कहीं-कहीं अति भारी बारिश हो सकती है।

राजस्थान समुद्री तूफान ताऊ ते

समुद्री तूफान ताऊ ते 15 और 16 मई से महाराष्ट्र के तटों पर भारी बारिश होगी. वहीं, मुंबई तथा आसपास के इलाकों में 17-19 मई के बीच भारी बारिश की संभावना है. जबकि, गुजरात के कई हिस्सों में 18 से 21 मई तक और 13 से 15 मई के बीच तमिलनाडु में बारिश होगी

चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ (Tauktae Cyclone) के असर से प्रदेश में 2 दिन बाद 16 मई से मौसमी गतविधियों में बदलाव आयेगा. इससे दक्षिणी राजस्थान के जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व कोटा संभाग के जिलों में आंधी और बारिश (Thunder storms and rain) की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी. इस दौरान 40 से 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवायें चलेंगी.

जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा के अनुसार उसके बाद 17 मई को मेघगर्जन के साथ बारिश की गतिविधियों में और बढ़ोतरी होगी. जोधपुर, उदयपुर, कोटा, अजमेर और बीकानेर संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर थंडरस्टॉर्म और तेज हवाओं के साथ कहीं कहीं मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है. जबकि जोधपुर संभाग के जिले में कहीं-कहीं भारी बारिश होने के आसार संभावना हैं.

आज भी तीन संभागों में बारिश की संभावना

वहीं राजस्थान में फिलहाल सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से आज भी बीकानेर, जयपुर और भरतपुर संभाग के जिलों में थंडर स्टॉर्म के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है. कल केवल उत्तर पश्चिमी राजस्थान में छिटपुट थंडर एक्टिविट हो सकती है. शेष स्थानों पर मौसम शुष्क रहेगा.
अति कम दबाव का क्षेत्र दक्षिण पूर्वी अरब सागर की खाड़ी में बन चुका है

Leave a Reply

Your email address will not be published.