स्वामित्व योजना 2020|Swamitwa yojana 2020

pradhan mantri yojana

स्वामित्व योजना 2020|स्वामित्व योजना Portal|पीएम स्वामित्व योजना|PM स्वामित्व योजना|स्वामित्व योजना ऐप

पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत के गांवों में विकास की गति को तेज करने के लिए वेब पोर्टल स्वामित्व योजना की शुरुआत की है|Swamitva Yojana गांवों में संपत्तियों की मैपिंग में ड्रोन का उपयोग करेगी। इससे संपत्ति पर विवादों को कम करने में मदद मिलेगी। पोर्टल ग्रामीणों को बैंकों से ऋण लेने में आसान बनाने में मदद करेगा।प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ड्रोन के उपयोग की तरह आधुनिक तकनीक का उपयोग कर ग्रामीण क्षेत्र में आवासीय भूमि के स्वामित्व का नक्शा बनाने के लिए ” स्वामी योजना ” या स्वामित्व योजना शुरू की।

भारत में संपत्ति रिकॉर्ड रखरखाव में क्रांति लाने के उद्देश्य से यह योजना प्रधान मंत्री द्वारा पंचायती राज दिवस पर शुरू की गई थी|पीएम मोदी ने कहा, ‘कोरोना संकट ने सिखाया है, आत्मनिर्भर बनो, आत्मनिर्भर बनो, आत्मनिर्भर बनो’. पंचायतें मजबूत होंगी तो आखिरी शख्स तक मदद पहुंचेगी|इसके तहत देश के सभी गांवों में ड्रोन के माध्यम से गांव की हर संपत्ति की मैपिंग की जाएगी. इसके बाद गांव के लोगों को उस संपत्ति का मालिकाना प्रमाणपत्र दिया जाएगा|

स्वामित्व योजना 2020 |Swamitwa scheme

इसका मतलब ये हुआ कि स्वामित्व योजना के जरिए संपत्ति को लेकर भ्रम और झगड़े खत्म हो जाएंगे.इससे गांव में विकास योजनाओं की प्लानिंग में मदद मिलेगी|वहीं शहरों की तरह गांवों में भी आप बैंकों से लोन ले सकेंगे. इसके लिए ग्रामीणों से न्यूनतम डॉक्युमेंट मांगे जाएंगे|आधुनिक योजना का मतलब ग्रामीण क्षेत्रों में आधुनिक तकनीक का उपयोग करके भूमि के स्वामित्व का रिकॉर्ड बनाना है।इस योजना की आवश्यकता तब महसूस की गई जब ग्रामीण क्षेत्रों में कई ग्रामीणों के पास अपनी भूमि के स्वामित्व को साबित करने वाले कागजात नहीं थे। ज्यादातर राज्यों में, गांवों में आबादी वाले क्षेत्रों का सर्वेक्षण और माप, संपत्तियों के सत्यापन / सत्यापन के उद्देश्य से नहीं किया गया है।

स्वामित्व योजना Portal मुख्य उद्देश्य

  • इस योजना को केंद्रीय पंचायती राज मंत्रालय, भारतीय सर्वेक्षण, पंचायती राज विभागों और विभिन्न राज्यों के राजस्व विभागों के साथ निकट समन्वय में किया जाएगा।
  • ड्रोन एक गाँव की भौगोलिक सीमा के भीतर गिरने वाली हर संपत्ति का एक डिजिटल नक्शा तैयार करेंगे और हर राजस्व क्षेत्र की सीमाओं का सीमांकन करेंगे।
  • ड्रोन-मैपिंग द्वारा वितरित सटीक मापों का उपयोग करके राज्यों द्वारा गांव में प्रत्येक संपत्ति के लिए संपत्ति कार्ड तैयार किया जाएगा। ये कार्ड संपत्ति मालिकों को दिए जाएंगे और भूमि राजस्व रिकॉर्ड विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त होंगे।
  • एक आधिकारिक दस्तावेज के माध्यम से संपत्ति के अधिकारों का वितरण ग्रामीणों को संपार्श्विक के रूप में अपनी संपत्ति का उपयोग करके बैंक वित्त तक पहुंचने में सक्षम करेगा।
  • पंचायत स्तर पर एक गाँव के लिए संपत्ति के रिकॉर्ड को भी बनाए रखा जाएगा, जिससे मालिकों से संबद्ध करों के संग्रह की अनुमति मिलेगी। इन स्थानीय करों से उत्पन्न धन का उपयोग ग्रामीण अवसंरचना और सुविधाओं के निर्माण के लिए किया जाएगा।

Swamitwa yojana 2020 का लाभ

  • संपत्ति को लेकर भ्रम और झगड़े खत्म होंगे|
  • इससे गांव में विकास योजनाओं की प्लानिंग में मदद मिलेगी पंचायतों में अब हर तरह के कार्य की निगरानी होगी|
  • इस योजना के अंतर्गत ड्रोन के माध्यम से गांव के एक एक मकान की मैपिंग की जायेगी|
  • गांव की एक एक संपत्ति की मैपिंग होगी|
  • इसका सर्टिफिकेट भी मिलेगा|
  • इससे संपत्ति को लेकर भ्रम की स्थिति खत्म होगी|
  • इससे शहरों की तरह गांवों में भी बैंकों से लोन ले सकते हैं|
  • इस योजना के आधार पर ही आने वाले वर्षों में पंचायती राज दिवस दिवस के दिन दिए जाने वाले पुरस्कारों की घोषणा होगी|

पीएम स्वामित्व योजना के लिए आवेदन

  • आवेदक को सबसे पहले पीएम स्वामित्व योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद फिर से इस वेबसाइट का होम पेज खुलकर आएगा जिसमें आपको न्यू रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • न्यू रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इसमें आपसे मुतालिक जो भी जानकारी मांगी गई है उसे ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  • पूरा फॉर्म ध्यानपूर्वक भरने के बाद सबमिट का बटन दबाना होगा।
  • अब आपका फॉर्म सफलतापूर्वक भर गया है आपके रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई भी जानकारी आपके मोबाइल नंबर पर s.m.s. द्वारा या ईमेल आईडी द्वारा मिल जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *