संकल्प सिद्धि योजना|संकल्प से सिद्धि|Sankalp Se Siddhi IN HINDI

भारत के प्यारे देशवासियों भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने संकल्प से सिद्धि योजना का गठन किया है संकल्प से सिद्धि एक योजना नहीं बल्कि एक संकल्प है|जिसे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिया है|भारत को न्यू इंडिया बनाने का संकल्प लिया है|इस योजना के तहत प्रमुख आर्थिक सामाजिक मुद्दों का विराम करण करने की कोशिश की जाएगी इस योजना की शुरुआत भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर अगस्त 2017 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की के द्वारा शुरु की गई है|75 वर्षों बाद भी बहुत-सी ऐसी बुराईयाँ भारत में व्याप्त हैं जिन्हें दूर करने का संकल्प लिया गया है.|

माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक भारतीय किसानों की आय को दोगुना करने का संकल्प लिया है|इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश के नागरिकों में शामिल होने के स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों का भारत बनाने के लिए एक आम प्रयास करने का आग्रह किया है इस तरह की पहल दूसरों को प्रोत्साहित करके मजबूत और समृद्ध भारत बनाने के लिए एक कदम है इस योजना 5 साल के लिए 2017से 2022 तक कामयाब रहेगी इस योजना के कार्यक्रमों की देखरेख कार्य किसान कल्याण मंत्रालय को सौंपा गया है|

संकल्प से सिद्धि योजना का उद्देश्य

भारत की माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने गेस्ट के मिलने को क्रांति के महीने के रुप में वर्णित किया है क्योंकि 1 अगस्त 1920 को उपयोग आंदोलन शुरू हुआ था 9 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन शुरू हुआ था और 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता आंदोलन शुरू हुआ था इस तरह देश में महत्वपूर्ण बदलाव लाने के लिए जो भी क्रांति हुई इस वजह से अगस्त महीना नहीं बदलाव के संकल्प के लिए महत्वपूर्ण बन गया है|

संकल्प से सिद्धि योजना कार्यक्रम के तहत कृषि क्षेत्र में 7 सूत्री कार्यक्रम लागू किया जा रहा है और 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का देश है इस कार्यक्रम में आयोजित किया जा रहा है|संकल्प से सिद्धि योजना का उद्देश्य 2022 तक नए भारत का निर्माण पर वचन लेना और निभाना है इस कार्यक्रम का उद्देश्य देश की अर्थव्यवस्था नागरिकों और समाज को सुधारने के लिए देश में बदलाव लाने का है|

1.विभिन्न कृषि उत्पादन प्रणालियों के अंतर्गत स्थान विशेष के लिए नई तकनीक, बीज एवं रोपण सामग्री को किसानों के खेत पर परीक्षण करना।

2.किसानों के खेतों पर विभिन्न फसलों, पशुपालन व अन्य कृषि आधारित उद्यमोंपर उनकी उत्पादन क्षमता सिद्ध करने के लिए अग्रपंक्ति के प्रदर्शन आयोजित करना एवं जिला कृषि विस्तार कर्मियों के माध्यम से बृहद् प्रसार का कार्य।

3.आधुनिक कृषि प्रौद्दोगिकी में किसानों के ज्ञान व कौशल को बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण आयोजित करना।

4.प्रौद्दोगिकी विकास के नवीनतम क्षेत्रों में जिलावार कृषि विस्तार कार्मियों के ज्ञान को बढ़ाने के लिए उन्हें प्रशिक्षण देना।

5.उन्नतशील बीजों का केवीके प्रक्षेत्र पर उत्पादन एवं सीड हब तथा बीज ग्राम कार्यक्रम के माध्यम से किसानों के खेतों पर उत्पादन।

6.प्रौद्योगिकी के प्रसार की प्रक्रिया को तेज करने के लिए बड़े पैमाने पर विभिन्न विस्तार गतिविधियों जैसे किसान मेला, कृषि प्रदर्शनी, प्रौद्योगिकी सप्ताह, मीटिंग, समूह चर्चा, सेमिनार, फसल दिवस, रेडियो व टी.वी. पर चर्चा आदि का आयोजन

संकल्प से सिद्धि

  1. प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त, 2017 को “संकल्प” दिवस के रूप में मनाने का आह्वान किया था.
  2. प्रधानमंत्री ने देश में मौजूदा कई बुराइयों से मुक्त एक नए भारत को बनाने का आह्वान किया.
  3.  भारत को 2022 तक एक नए भारत बनाने का संकल्प है.
  4. 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का संकल्प लिया गया है.
  5. भारत को एक corruption free country बनाने की कल्पना की गई है|
  6. गरीबी, शिक्षा और कुपोषण की कमी जो भारत के लिए एक बड़ी चुनौती है…इसको जड़ से उखाड़ फेकने का संकल्प है.|
  7. नरेंद्र मोदी ने मन की बात में कहा कि 1942 में हम भारतीय करेंगे या मरेंगे का नारा लगाते थे पर अब हम करेंगे और कर के रहेंगे का नारा लगाते हुए आगे बढ़ेंगे|
  8. संकल्प से सिद्धि के अंतर्गत देश को आतंकवाद, गरीबी, भूख, गन्दगी, सम्प्रदायवाद, जातिवाद को दूर करने का संकल्प लिया गया है.|
  9. प्रधानमंत्री ने एक बड़ी बात यह कही कि जब 1942 में भारतवासियों ने भारत छोड़ो का नारा लगाया तो अंग्रेजों को ठीक पाँच वर्ष बाद भारत को छोड़ कर जाना पड़ा. अब तो भारत हमारा है, हमारे देशवासियों का है…तो क्यों न हम गन्दगी भारत छोड़ो, आतंकवाद भारत छोड़ो, अशिक्षा भारत छोड़ो, जातिवाद भारत छोड़ो आदि का नारा लागायें ताकि 2022 तक हमें एक नया भारत मिले

संकल्प से सिद्धि योजना की जरूरी बातें

  • संकल्प से सिद्धि योजना एक नए भारत का आयोजन होगा इसने आंदोलन में देश के नागरिकों के लिए योजनाएं और कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे इस कार्यक्रम के माध्यम से भारत में व्याप्त सामाजिक मुद्दों जाति धर्म गरीबी शिक्षा स्वास्थ्य अन्य मुद्दों को समझाते हुए उन्हें खत्म करने के लिए आवश्यक पर आने जाने की कोशिश की जाएगी|
  • संकल्प से सिद्धि योजना कार्यक्रम में 6 से 7 प्रमुख मुद्दों पर ध्यान केंद्रित कराया जाएगा जिसमें स्वच्छ भारत, साक्षर भारत ,गरीबी मुक्त, भारत भ्रष्टाचार मुक्त ,अंतर्गत रहित संप्रदायिकता रहित होने के कारण जाति भेदभाव मुक्त इत्यादि का मुद्दा उठाया जाएगा|
  • कृषि और किसान कल्याण में 19 अगस्त से 31 अगस्त तक इस कार्यक्रम का आयोजन किया इसके लिए 578 कृषि विज्ञान केंद्र 53 के साथ अन्य संस्थान ने भी भाग लिया और इस कार्यक्रम के शुभारंभ के दौरान एक लघु दिखाई गई इस कार्यक्रम में जो फिल्म दिखाई गई उसमें 35 सांसदों विधायकों ने भाग लिया इसके साथ 129 लोकप्रिय के विभाग लेने की चर्चा है

इसकी मुख्य विशेषताएं 

1.पोर्टल द्वारा प्रत्येक कृषि विज्ञान केन्द्रों के ऑनलाइन निगरानी का प्रावधान किया गया है जिसके अंतर्गत कृषि विज्ञान केन्द्रों द्वारा नियमित रूप से किए गये कार्यों का विवरण लेना एवं मासिक रूप से प्रगति रिपोर्ट प्राप्त करना सम्मिलित है।

2.इस पोर्टल के माध्यम से कृषि विज्ञान केन्द्र पर समय-2 पर उपलब्ध होने वाली विभिन्न सेवाओं के बारे जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

3.मौसम एवं बाजार की सूचनाएं भी इस पोर्टल के द्वारा किसान प्राप्त कर सकते हैं।

4.आने वाले कार्यक्रमों का भी विवरण इस वेबसाईट पर उपलब्ध है, जिससे किसान एवं प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले ग्रामीण युवक उन कार्यक्रमों का लाभ उठा सकेंगे।

5.प्रश्न पूछने एवं उत्तर प्राप्त करने की भी व्यवस्था की गई है जिससे किसान अपने प्रश्नों का उत्तर प्राप्त कर सकेंगे।

6.संबंधित जिले के बारे में भी कृषि एवं कृषि से संबंधित विषयों की सूचना पोर्टल पर उपलब्ध है।

7.किसान एवं अधिकारी अपना पंजीकरण कर स्वत:बहुत सारी सूचनायें प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों आपको संकल्प से सिद्धि योजना किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

One thought on “संकल्प सिद्धि योजना|Sankalp Se Siddhi IN HINDI”
  1. सर,मेरे द्वारा पीएम सर को किसानों को सुविधा संपन्न बनाने हेतु पांच सुझाव प्रेषित email and speed post से किया।नीति आयोग व वाणिज्य मंत्रालय को भी भेजा। अंतिम बार 24.12.2018 को भेजा। सर मुझे कैसे जानकारी होगी कि ये सभी सुझाव पीएम सर के संज्ञान में आ गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *