प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

PM गरीब कल्याण योजना| ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म

pradhan mantri yojana

(PMGKY) गरीब कल्याण योजना |प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना|गरीब कल्याण योजना|pradan mantri garib kalyan yojana|garib kalyan yojana|pm garib kalyan yojana|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने गरीब कल्याण योजना शुरुआत की है| केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस (कोविड-19) से प्रभावित अर्थव्यवस्था और गरीबों की मदद के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का घोषणा किया है| उन्होंने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत लॉकडाउन से प्रभावित गरीब तबके के लोगों की सहायता करेगी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) भारत सरकार की एक योजना है| कोरोनावायरस संकट से निपटने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर 1.7 लाख करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा की। वित्त मंत्री ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश रहेगी कि 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान देश का कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सो पाए। कोरोनावायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया था। इससे जनजीवन और आर्थिक गतिविधियां ठहर गई हैं।

गरीब कल्याण योजना|Pm garib kalyan yojana

  • आशा कर्मियों, डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ का 50 लाख का बीमा होगा।
  • 80 करोड़ गरीब लोगों को अगले तीन महीने तक 5 किलो गेहूं या चावल और दाल मुफ्त दिए जाएंगे।
  • पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 2 हजार रुपए की किस्त किसानों के खाते में अप्रैल के पहले सप्ताह में ट्रांसफर कर दी जाएगी। इससे 8.7 करोड़ किसानों को लाभ मिलेगा।
  • मनरेगा के तहत 182 के स्थान पर 202 रुपए की दैनिक मजदूरी दी जाएगी। इससे 5 करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा।
  • तीन करोड़ वरिष्ठ नागरिकों, गरीब विधवा और गरीब दिव्यांगों को अगले तीन महीने तक 1 हजार रुपए प्रतिमाह की आर्थिक मदद दी जाएगी।
  • उज्ज्वला योजना की लाभार्थी 8 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को अगले तीन महीने तक मुफ्त रसोई गैस मिलेगी।
  • 20 करोड़ महिला जन धन खाता धारकों को अगले तीन महीने तक 500-500 रुपए दिए जाएंगे।
  • कर्मचारी अपने पीएफ खाते में से कुल जमा में से 75 फीसदी या तीन महीने की सैलरी के बराबर पैसा निकाल सकते हैं। इस पैसे को वापस जमा करने की जरूरत नहीं होगी।
  • महिला स्व सहायता समूह को अब 20 लाख का फ्री कोलैटरल लोन मिलेगा।
  • 15000 तक मासिक वेतन वालों के ईपीएफओ अंशदान अगले तीन महीने तक सरकार करेगी।
  • निर्माण क्षेत्र से जुड़े 3.5 करोड़ रजिस्टर्ड वर्कर जो लॉकडाउन की वजह से आर्थिक दिक्कतें झेल रहे हैं, उन्हें मदद दी जाएगी। इनके लिए 31000 करोड़ रु. का फंड रखा गया है।

पीएम गरीब कल्याण योजना

  • लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों की मदद की जाएगी। जिन लोगों को तुरंत मदद की जरूरत है, उन्हें राहत दी जाएगी। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लाई जाएगी।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ गरीबों को राशन के अतिरिक्त 3 महीने तक 10 किलो गेहूं या चावल अतिरिक्त दिया जाएगा। इसके अलावा एक किलो दाल भी दी जाएगी। 
  • किसानों के खाते में 2000 रु. की किश्त अप्रैल के पहले हफ्ते में डाल दी जाएगी, इससे 8.69 करोड़ किसानों को फायदा मिलेगा।
  • मनरेगा के तहत मजदूरी 182 से बढ़ाकर 202 रुपए की गई। 3 करोड़ सीनियर सिटीजंस, विधवाओं, दिव्यांगों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) का फायदा मिलेगा।
  • 3 करोड़ महिला जनधन खाताधारकों को 500 रुपए प्रति माह अगले 3 महीने तक दिए जाएंगे। 3 करोड़ सीनियर सिटीजंस, विधवाओं, दिव्यांगों को डीबीटी का फायदा मिलेगा, 1000 रुपए दिए जाएंगे। 
  • उज्ज्वला स्कीम के तहत 3 महीने तक फ्री सिलेंडर दिया जाएगा। इससे 8.3 करोड़ परिवारों को फायदा होगा। 
  • बीपीएल परिवारों को अन्न, धन और गैस की दिक्कत नहीं होगी। स्वयं सहायता समूहों को, जिनसे 7 करोड़ परिवार जुड़े हैं, बैंक से पहले 10 लाख का कर्ज मिलता था, अब 20 लाख का मिलेगा।

कर्मचारी प्रॉविडेंड फंड पर सरकार का बड़ा ऐलान

  • सरकार 3 महीने कर्मचारी और नियोक्ता का ईपीएफ योगदान देगी। पूरा 24% सरकार की तरफ से ही दिया जाएगा। 100 कर्मचारियों वाली कंपनियों को ईपीएफ का लाभ मिलेगा।
  • 100 से कम कर्मचारियों वाले संस्थानों, 15000 से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों ईपीएफ का लाभ मिलेगा। 80 लाख से ज्यादा कर्मचारियों, 4 लाख से ज्यादा संस्थानों को फायदा होगा।
  • निर्माण क्षेत्र से जुड़े 3.5 करोड़ रजिस्टर्ड वर्कर जो लॉकडाउन की वजह से आर्थिक दिक्कतें झेल रहे हैं, उन्हें मदद दी जाएगी। इनके लिए 31000 करोड़ रु. का फंड रखा गया है।
  • पीएफ फंड रेग्युलेशन में संशोधन किया जाएगा। कर्मचारी जमा रकम का 75% या तीन महीने के वेतन में से जो भी कम होगा, निकाल सकेंगे। 
  • डिस्ट्रिक मिनरल फंड राज्य सरकारों के पास रहता है, इसका उपयोग जांच, दवाओं, उपचार के लिए हो ताकि कोरोना से लड़ने में सफल हो सकें।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए कैसे करें आवेदन

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के आवेदन के लिए सबसे पहले कैसे अप्लाई करें इस के अंतर्गत जमाकर्ता को सबसे पहले किसी भी आरबीआई की अथॉराइज्ड बैंक अकाउंट खुलवाना होगा। इसका एक अलग फॉर्म होता है जो आरबीआई की तरफ से दिया जाता है। ये फॉर्म केवल अघोषित संपत्ति रखने वालों को ही भरना होता है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को निकटतम ग्राम पंचायत (जो भी आपके पास में हो ) में जाकर संपर्क करना होगा। शहर में उम्मीदवार को नामांकन करवाने के लिए अपनी नगर पालिका में जाकर संपर्क करना होगा।

164 thoughts on “PM गरीब कल्याण योजना| ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म

  1. Mahoday mai riksha chalak hun mughe abhi tak koi labh nahi mila hai rashan cord bhi nahi hai our.kisi bhi tarah.ki koi aarthik madad bhi sarkar dwara nahi di ja.rahi.hai.pariwar me teen.bachhe.our.ham.pati.patni.kul panch.sadsya.hai.kripya madad karen

  2. Pm sab hmare pass na to bpl rasen kard ha krna hamko koi sarkar kisi tarf se koi suvida mil rahi ha sarkar to kh rhi ha ki garib logo ko ko ham khana denge Or pese denge ham logo ko to aaj tak koi bhi suvida nhi mil rhi ha.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *