किसान एफपीओ योजना|पीएम किसान एफपीओ योजना|पीएम किसान एफपीओ योजना 2021|pm kisan fpo yojana registration|pm fpo yojana|fpo yojana|pm kisan fpo yojana

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में pm kisan fpo yojana की जानकारी देने जा रही हैं|हम आपको बताएंगे कि pm fpo yojana क्या है| आप किस प्रकार इस योजना का प्रधानमंत्री किसान fpo योजना लाभ उठा सकते हैं|हाल ही में केंद्र सरकार ने PM Kisan FPO Yojana 2021 की शुरुआत की है। पीएम मोदी ने किसानों को खास सुविधाएं मुहैया कराने के लिए इस योजना को शुरू किया है, ताकि इसके जरिए खेती से भी वैसा ही मुनाफा हासिल किया जा सके, जैसा किसी उद्योग में मिलता है। बता दें कि इस स्कीम में किसानों को 15-15 लाख रुपए दिए जाएंगे। 

PM Kisan FPO Yojna के तहत किसान अपने संगठन बना कर योजना का लाभ ले सकेंगे। FPO का मतलब है फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गनाइजेशन यानी किसान उत्पादक संगठन। यह संगठन कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड होगा और सरकार किसानों के इन संगठनों को 15-15 लाख रुपए की सहायता देगी। इस योजना में किसानों के संगठन यानी FPO को किसी कंपनी की तरह सारे फायदे मिलेंगे। इससे किसानों की प्रोडक्टिविटी काफी बढ़ जाएगी। लेकिन फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गनाइजेशन (FPO) पर कॉपरेटिव एक्ट लागू नहीं होगा।

Pm Kisan Fpo Yojana

किसानों की जरूरतों और समस्याओं के मद्देनजर केंद्र सरकार ने पीएम किसान एफपीओ योजना लॉन्च की है, जो देश के किसानों के लिए बहुत लाभदायक होगी। सरकार का उद्देश्य इस योजना से देश में कृषि सेक्टर को आगे बढ़ाने का है। बता दें कि पीएम किसान एफपीओ योजना पर केंद्र सरकार 4,496 करोड़ रुपए खर्च करेगी। पीएम किसान एफपीओ योजना में एफपीओ का अर्थ है किसान उत्पादक संगठन। ये किसानों का एक ऐसा संगठन होता है, जो कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड होकर कृषि उत्पादक कार्य को आगे बढ़ाता है।

pm kisan fpo yojana 2021

योजना का नामPm Kisan Fpo Yojana 2021
इनके द्वारा शुरू की गयीकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के छोटे और सीमांत किसान
उद्देश्यकिसानो को आर्थिक सहायता प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://www.pmkisan.gov.in/
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार की योजना
लाभ15 लाख रुपए  की आर्थिक सहायता

किसान एफपीओ योजना का उद्देश्य

पीएम किसान एफपीओ योजना किसानों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होगी। इस योजना का मकसद किसी उद्योग के बराबर ही खेती से मुनाफा हासिल करना है। देश में कृषि का विस्तार होगा और किसानों के आर्थिक हालात भी बेहतर होंगे। इससे किसानों की प्रोडक्टिविटी में काफी बढ़ोतरी होने की भी उम्मीद है। योजना के माध्यम से किसानों को दिया जाने वाला पैसा नकद दिया जाएगा। योजना में छोटे और सीमांत किसानों के समूह बनेंगे, जिससे उन्हें लाभ मिलेगा।

पीएम किसान एफपीओ योजना के लाभ

PM Kisan FPO Yojana में छोटे और सीमांत किसानों का समूह बनाया जाएगा। इस समूह से जुड़े किसानों को उनकी उपज के लिए बाजार मुहैया करवाया जाएगा। यही नहीं, एक संगठन से जुड़े होने के कारण उनके लिए खाद, बीज, दवाइयां और कृषि उपकरण भी खरीदना आसान होगा। 

इस योजना के तहत केंद्र सरकार की मंजूरी मिल जाने के बाद 10 हजार किसान उत्पादक संगठन (FPO) बनेंगे। इन्हें वही सारे फायदे मिलेंगे जो किसी कंपनी को मिलते हैं, क्योंकि इनका रजिस्ट्रेशन कंपनी एक्ट के तहत ही होगा। 

केंद्र सरकार शुरुआत में इस योजना पर 4,496 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। इस राशि से किसानों के उत्पादक संगठन को, जो कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड होगा, नकद सहायता दी जाएगी। 

पीएम किसान FPO योजना के मुख्य तथ्य

  • पीएम किसान FPO योजना को केंद्र सरकार द्वारा आरंभ किया गया है।
  • एफपीओ की फुल फॉर्म फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन होती है।
  • यह संगठन होता है जिसके सदस्य किसान होते हैं।
  • एसपीओ के माध्यम से किसानों को तकनीकी, मार्केटिंग, ऋण, प्रोसेसिंग, सिंचाई आदि जैसी सुविधाएं प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के माध्यम से किसान 15 लाख रुपए तक का ऋण भी ले सकते हैं।
  • एफपीओ को इंडियन कंपनीज एक्ट के अंतर्गत रजिस्टर करवाया जा सकता है।
  • इसके अलावा इस संगठन के माध्यम से किसानों को बीज, खाद, मशीनरी, मार्केट लिंकेज, ट्रेनिंग, नेटवर्किंग, वित्तीय सहायता आदि जैसी सुविधाएं भी प्रदान की जाती है।
  • इस संगठन का लक्ष्य किसानों को हर कार्य संभव मदद प्रदान करना होता है।
  • यह संगठन किसानों को उत्पादन बढ़ाने में भी सहायता प्रदान करता है।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक जिले के ब्लॉक में एक एफपीओ होना चाहिए।
  • यह संगठन उन जिलों में प्राथमिकता पर संगठित किया जाएगा जो एस्पिरेशनल होते हैं।
  • एफपीओ के माध्यम से पर्याप्त प्रशिक्षण और हैंड हैंडलिंग प्रदान की जाती है इसके अलावा सीबीओ के स्तर से प्राथमिक प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाता है।
  • नॉर्थईस्ट एवं पहाड़ी इलाकों में एक एफपीओ में कम से कम 100 सदस्य होने चाहिए और मैदानी इलाकों में एक एफपीओ में कम से कम 300 सदस्य होने चाहिए।

10,000 नए एफपीओ समूह का किया जाएगा गठन

पीएम किसान FPO योजना उन किसानों के लिए आरंभ की गई है जिनके पास 1 हेक्टेयर या उससे कम कृषि भूमि पर मालिकाना हक है। इस योजना की 5 साल की अवधि पूरा करने की घोषणा केंद्र सरकार द्वारा की गई है। इस योजना के माध्यम से किसानों का अपना खुद का व्यवसाय आरंभ करने के लिए 1500000 रुपए तक की आर्थिक मदद प्रदान ऋण के रूप में प्रदान की जाती है। सन 2023-24 तक इस योजना के अंतर्गत 10,000 एफपीओ समूह बनाने की घोषणा सरकार द्वारा की गई है। यह समूह सरकार एवं उसके स्वायत्त निकाय एसएफएसी इंडिया मिलकर बनाएंगे। केंद्र सरकार द्वारा 10000 एसपीओ के लिए 4496 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है।

  • इसके अलावा सरकार की ओर से सन 2027-28 तक 2370 करोड़ रुपए की अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान करने का भी लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना के माध्यम से 2027-28 तक कुल 6886 करोड रुपए की आर्थिक सहायता किसानों को पहुंचाई जाएगी। इस योजना के माध्यम से किसानों के उत्पादन में भी बढ़ोतरी होगी एवं वे आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से कृषि उद्यमी कौशल भी विकसित होगा। नए एफपीओ को सरकार की ओर से 5 साल तक के लिए हैंड होल्डिंग और सहायता भी प्रदान की जाएगी।

किसानों को नहीं देना होगा भारी ब्याज शुल्क

वह सभी किसान जो पीएम किसान एफपीओ योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। टोल फ्री नंबर 1800 270 0224 है। सभी छोटे और सीमांत किसान इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के माध्यम से किसान साहूकारों से बच सकेंगे। यदि किसान पात्रता मानदंड पूरा करते हैं तो इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को इच्छुक 11 किसानों का समूह बनाना होगा। यह 11 किसानों का समूह एफपीओ के रूप में काम करेगा।

पीएम किसान FPO योजना की पात्रता

  • आवेदक पेशे से किसान होना चाहिए।
  • आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • प्लेन क्षेत्र में एक एफपीओ में कम से कम 300 सदस्य होने चाहिए।
  • पहाड़ी क्षेत्र में एक एसपीओ में कम से कम 100 सदस्य होने चाहिए।
  • एफपीओ के पास स्वयं की कृषि योग्य भूमि होनी अनिवार्य है एवं उसे समूह का हिस्सा होना भी अनिवार्य है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जमीन के कागजात
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

किसान सम्मान निधि योजना लाभार्थी लिस्ट

Pm Kisan Fpo Yojana Registration

पीएम किसान FPO योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको एफपीओ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PM Kisan FPO Yojana
PM Kisan FPO Yojana Form
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आपको फॉर्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • रजिस्ट्रेशन टाइप
    • रजिस्ट्रेशन लेवल
    • फुल नेम
    • जेंडर
    • एड्रेस
    • डेट ऑफ बर्थ
    • पिन कोड
    • डिस्ट्रिक्ट
    • फोटो आईडी टाइप
    • मोबाइल नंबर
    • ईमेल आईडी
    • कंपनी नेम
    • स्टेट
    • तहसील
    • फोटो आईडी नंबर
    • अल्टरनेट मोबाइल नंबर
    • लाइसेंस नंबर
    • कंपनी रजिस्ट्रेशन
    • बैंक नेम
    • अकाउंट होल्डर नेम
    • बैंक अकाउंट नंबर
    • आईएफएससी कोड
  • इसके पश्चात आपको पासबुक या फिर कैंसिल चेक एवं आईडी प्रूफ को स्कैन करके अपलोड करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप एफपीओ योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।
13 thoughts on “[Fpo] PM किसान Fpo योजना Registration|pm fpo yojana”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *