प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना|प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न स्कीम|pm garib kalyan anna yojana online application|pm garib kalyan ann yojana |pm garib kalyan anna yojana|

Updated—  कोरोनावायरस की दूसरी लहर (Covid19 Second Wave) के मद्देनजर केंद्र सरकार ने अप्रैल 2021 में गरीब परिवारों के लिए एक बार फिर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का ऐलान किया था। इस योजना के तहत केन्द्र सरकार ने राशनकार्ड धारकों को मई और जून महीने में प्रति व्यक्ति 5 किलो अतिरिक्त अन्न (चावल/गेहूं) मुफ्त में उपलब्ध कराया। अब सरकार ने इस योजना को दिवाली तक बढ़ा दिया है। यानी कि राशनकार्ड धारक अब दिवाली तक राशन कार्ड पर मिलने वाले कोटे के अतिरिक्त 5 किलो फ्री अनाज पा सकते हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 2.0 के विस्तार की घोषणा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार शाम को राष्ट्र के नाम अपने संबोधान के दौरान की। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का फायदा राशन कार्ड धारक 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को होगा।

प्यारे दोस्तों प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की जानकारी देने जा रही हैं| हम आपको बताएंगे कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 2021 क्या है| आप किस प्रकार इस पीएम गरीब अन्न योजना का लाभ उठा सकते हैं|प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना ( PM Gareeb Kalyan Anna Yojana) का विस्तार दिवाली और छठ पूजा तक यानी नवंबर महीने के आखिर तक के लिए किया जा रहा है। राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे।

अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है. अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि वन नेशन वन राशन कार्ड का सबसे बड़ा लाभ उन गरीब लोगों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना

पीएम मोदी ने कहा कि त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है और इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए|पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को नवंबर तक बढ़ाने का ऐलान किया है। इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ लोगों को 5 किलो गेंहू या चावल मुफ्त मिलेगा। सरकार उनको नवंबर तक पांच किलो गेंहू या चावल और हर परिवार को एक किलो चना नवंबर तक देगी। 

लगातार बढ रहे लाॅकडाउन के कारण लोगों के सामने दो जून की रोटी जुटाने की चुनौती है। संकट की इस घड़ी में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अतर्गत वितरित किये जा रहे मुफ्त राशन से लोग राहत की सांस ले रहे हैं। राजधानी लखनऊ में भी इस योजना के तहत लोगों को निःशुल्क राशन वितरित किया जा रहा है। लाभार्थियों ने बताया कि निःशुल्क राशन मिलने से कोरोना संकट के समय में उन्हें काफी मदद मिली है। आयुक्त खाद्य एवं रसद मनीष चैहान ने बताया कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत अंत्योदय तथा पात्र गृहस्थी लाभार्थियों को राशन का वितरण किया जा रहा है। इसमें प्रति कार्ड 35 किलोग्राम खाद्यान्न जिसमें 20 किलोग्राम गेहूं व 15 किलोग्राम चावल का वितरण किया जा रहा है।

इसमें गेहूं का वितरण मूल्य 2 रुपए प्रति किलो तथा चावल का 3 रुपए प्रति किलोग्राम निर्धारित किया गया है। जिलाधिकारियों एवं जिला पूर्ति अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे उचित दर विक्रेतावार अधिकारियों की तैनाती करें, इसके अलावा उन्होंने उचित दर की दुकानों पर टोकन सिस्टम लागू करने को भी कहा है। साथ ही यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि एक दुकान पर एक समय में पांच उपभोक्ता से अधिक न रहे। इसके अलावा हर दुकान पर ई-पॉस के समय सैनिटाइजर, साबुन एवं पानी की व्यवस्था भी की जाए। लाभार्थी सुनीता ने बताया कि उनके पति जिस फर्म मे काम करते हैं, वह अभी बंद है। एसे में इस योजना से उनके परिवार का भरण पोषण आसानी से हो रहा है। एक अन्य लाभार्थी पंकज कहते है कि करोना से लडाई में घर पर ही रहना है ऐसे में फ्री राशन का इंतजाम हो जाने से हम सब इस लड़ाई को घर में रहकर जीत सकते है।

pm garib kalyan ann Yojana Highlights

योजना का नामप्रधानमंत्री वन धन योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री जी के द्वारा
लॉन्च की तारीक2 मई 2021 को
लाभार्थीआदिवासी
उद्देश्यरोजगार प्रदान करना 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

Pradhanmantri Garib Kalyan Yojana 3.0

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना के तहत प्रोत्साहन सहायता को आगे बढ़ाते हुए पीएम गरीब कल्याण योजना तीसरा फेज शुरू करने की तैयारी की जा रही है कोरोना वायरस के कारण आ रही आर्थिक रूप से परेशानी से निपटने के लिए इस योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा तीसरा प्रोत्साहन पैकेज लाने की तैयारी की जा रही है। रिपोर्ट्स के आधार पर इस योजना के तहत तीसरे प्रोत्साहन पैकेज में देश के गरीब लोगो को अगले साल मार्च तक फ्री में अनाज उपलब्ध कराया जायेगा । केंद्र सरकार सामाजिक सुरक्षा के लिए इस योजना की अवधि को बढ़ाने का प्लान बना रही है। इस योजना के अंतर्गत केश ट्रांसफर स्कीम को भी शामिल किया जा सकते है। रिपोर्ट के मुताबिक तीसरे प्रोत्साहन पैकेज में सरकार 20 करोड़ जन धन खातों और 3 करोड़ गरीब वृद्धजन ,विधवा ,विकलांग को केश ट्रांसफर की जा सकते है।

PMGKY 2. 0 में आवंटित और वितरित अनाज की संख्या

जैसे की आप सभी लोग जानते है कि इस योजना के अंतर्गत देश के सभी गरीब राशन कार्ड धारको परिवारों सरकार द्वारा नवंबर तक 5 किलो गेहू या 5 किलो चावल मुफ्त में सरकार द्वारा मुहैया कराया जायेगा। तो आपको बता दे इन पांच महीनो के लिए सरकार द्वारा 201 लाख टन का अनाज आवंटित किया गया है और इनमे से राज्यों द्वारा 89.76 लाख टन अनाज उठाया तथा इस योजना के तहत राज्यों द्वारा गरीब लोगो को 60. 52 लाख टन अनाज वितरित किया गया है। इस योजना के अंतर्गत जुलाई माह में लाभार्थियों को 35. 84 लाख टन अनाज दिया गया है और कुल लाभार्थियों को संख्या 71.68 करोड़ है। इसी तरह अगस्त माह में लाभार्थियों को 24.68 लाख टन अनाज वितरित किया गया है और कुल लाभार्थियों को संख्या 49.36 करोड़ है |

PMGKY 2. 0

गरीब कल्याण योजना लाभ उठाने के लिए ईसीआर आवश्यक

पूरे भारतवर्ष में कई सारे संस्थान ऐसे हैं जिन्होंने इसके लिए डिक्लेरेशन भर दिया है लेकिन काफी सारे संस्थान ऐसे भी हैं जिन्होंने अभी तक इसीआर जमा नहीं कराया है। जिसकी वजह से उन्हें गरीब कल्याण योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। वे सभी संस्थान जिन्होंने ईसीआर अभी फाइल नहीं किया है वह जलद से जलद ईसीआर फाइल करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

वे सभी सदस्य जिन्होंने यह योजना लागू होने से पहले ही ई सी आर भर चुके हैं उन्हें भी इस योजना का लाभ मिलेगा। इसी के साथ कई सारे ऐसा सदस्य भी हैं जिन्होंने अपना आधार केवाईसी अपडेट नहीं किया है। विभाग द्वारा ऐसे सदस्यों से संपर्क करके अपना आधार अपडेट करने की जानकारी दी जा रही है। कृपया वह सभी सदस्य जिन्हें आधार केवाईसी अपडेट ना होने की वजह से स्कीम का लाभ नहीं मिल रहा है वह जल्द से जल्द अपना आधार केवाईसी अपडेट करवाएं और स्कीम का लाभ उठाएं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न स्कीम का लाभ

  • इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ लोगों को 5 किलो गेंहू या चावल मुफ्त मिलेगा।
  • सरकार उनको नवंबर तक पांच किलो गेंहू या चावल और हर परिवार को एक किलो चना नवंबर तक देगी। 
  • आज गरीब को, ज़रूरतमंद को, सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है|
  • राशनकार्ड धारक नवंबर तक 5 किलो गेहूं या चावल प्रति व्यक्ति फ्री ले सकेगा. साथ ही प्रति परिवार 1 किलो चना मुफ्त मिलेगा|
  • राशन कार्ड धारक पहले से मिल रहे मौजूदा कोटे का प्रति व्यक्ति 5 किलो गेहूं या चावल पैसे देकर राशन दुकान से ले सकेगा|
  • इस तरह नवंबर 2021 तक महीने में प्रति व्यक्ति कुल 10 किलो अनाज लाभार्थी राशन दुकानों से ले सकेगा|

PM वन धन योजना

PM गरीब कल्याण अन्न  योजना में पंजीकरण कैसे करे ?

देश के जो गरीब लोग इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी पर राशन सरकार द्वारा प्राप्त करना चाहते है तो उन्हें निचे दिए गए दिशा निर्देश को पढ़ना होगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न  योजना  के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए कोई पंजीकरण की प्रक्रिया नहीं है । देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत 2 रूपये प्रतिकिलो की दर से गेहू और 3 रूपये प्रतिकिलो की दर से चावल प्राप्त करना चाहते है तो वह राशन की दुकान पर जाकर अपने राशन कार्ड के ज़रिये प्राप्त कर सकते है ।सब्सिडी पर राशन लेकर देश के गरीब लोग अपना जीवन यापन कर सकते है

  1. PM गरीब कल्याण अन्न योजना क्या है?
    प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की मदद से देश के 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को मुफ्त अनाज दिया जाता है। केन्द्र सरकार ने राशनकार्ड धारकों को मई और जून महीने में प्रति व्यक्ति 5 किलो अतिरिक्त अन्न (चावल/गेहूं) मुफ्त में उपलब्ध कराया है।
  2. अब PM गरीब कल्याण अन्न योजना की आखिरी तारीख क्या हो गई?
    अब मोदी सरकार ने पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को इस साल दिवाली तक के लिए बढ़ा दिया है। इससे पहले यह योजना जून तक के लिए लागू की गई थी। पिछली बार भी योजना को लागू करने के बाद उसे दिवाली और छठ तक के लिए बढ़ा दिया गया था।
  3. कब और क्यों हुई थी पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत?
    पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत पिछले साल कोरोना वायरस की पहली लहर के दौरान की गई थी, जब पूरे देश में लॉकडाउन लगाया गया था। गरीबों को राहत देने के लिए सरकार ने 80 करोड़ से अधिक राशनकार्ड धारकों को अप्रैल से जून तक मुफ्त राशन मुहैया कराया था।
  4. क्या दिवाली से आगे भी बढ़ सकती है इसकी तारीख?
    उम्मीद की जा रही है कि सितंबर-अक्टूबर के दौरान तीसरी लहर आ सकती है। अगर ऐसा होता है तो पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की आखिरी तारीख बढ़ाना जरूरी हो जाएगा, ताकि गरीबों को दिक्कत ना हो। पिछली बार भी योजना को छठ तक बढ़ा दिया गया था, ऐसे में इस बार भी जरूरत पड़ने पर इसे बढ़ाया जा सकता है।

पिछले साल मार्च में पहली बार लागू हुई थी योजना
पिछले साल कोविड-19 की पहली लहर के दौरान मार्च में जब पूरे देश में लॉकडाउन लगाया गया था तब इस योजना का ऐलान हुआ था। यह येाजना प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PM Garib Kalyan Package) का हिस्सा थी। उस वक्त गरीब परिवारों को राहत देने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत सरकार ने 80 करोड़ से अधिक राशनकार्ड धारकों को अप्रैल, मई और जून 2020 के लिए राशन कार्ड में दर्ज सदस्यों के आधार पर प्रति व्यक्ति पांच किलो अनाज (गेहूं अथवा चावल) और प्रति परिवार एक किलो दाल मुफ्त देने की घोषणा की थी।

यह मुफ्त 5 किलो अनाज, राशन कार्ड पर रहने वाले अनाज के कोटे के अतिरिक्त घोषित किया गया था। बाद में सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार दिवाली और छठ पूजा तक कर दिया था। इस साल सरकार ने एक बार फिर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को लागू किया और इसे दिवाली तक विस्तारित कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *