PM E Vidya Yojana

PM E Vidya portal teacher Registration|पं इ विद्या पोर्टल टीचर रजिस्ट्रेशन|PM E Vidya Portal|PM E Vidya in Hindi:कोविड -19 के कारण, शिक्षा का लॉकडाउन सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में से एक है। तालाबंदी के कारण छात्रों को उचित शिक्षा नहीं मिल पा रही थी। इसे ध्यान में रखते हुए वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने छात्रों के लिए  पीएम ई विद्या  कार्यक्रम की घोषणा की है। इस कार्यक्रम के माध्यम से छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान  करने के लिए विभिन्न प्रकार के ऑनलाइन मॉडल लॉन्च किए जाएंगे|इस लेख के माध्यम से, हम आपको इस कार्यक्रम के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जैसे इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया इत्यादि। इसलिए यदि आप पीएम ई-विद्या कार्यक्रम के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने में रुचि रखते हैं। तो आपसे अनुरोध है कि इस लेख को अंत तक बहुत ध्यान से पढ़ें।

PM eVidya- One Nation One Digital Platform के बारे में

Contents

भारत सरकार ने  पीएम ई विद्या  कार्यक्रम शुरू किया है। इस योजना के तहत, देश के शीर्ष सौ विश्वविद्यालय 30 मई 2020 के बाद ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से छात्रों को शिक्षित करना शुरू कर देंगे। पूरे देश में ऐसे कई छात्र हैं जिनकी इंटरनेट तक पहुंच नहीं है। उन सभी छात्रों को शिक्षा प्रदान करने के लिए स्वयं प्रभा डीटीएच चैनल शुरू किया जाएगा। सरकार इस योजना के तहत इसी तरह के 12 और चैनल भी लॉन्च करेगी। इसके अलावा एक दीक्षा प्लेटफॉर्म भी लॉन्च किया जाएगा जिसमें सभी वर्गों के लिए ई-कंटेंट और क्यूआर कोड एनर्जेटिक किताबें शामिल होंगी।

PM eVIDYA  को वन नेशन डिजिटल प्लेटफॉर्म भी कहा जाएगा। इसके अलावा कक्षा 1 से 12वीं में पढ़ने वाले छात्रों के लिए एक कक्षा एक चैनल नामक एक टीवी चैनल भी लॉन्च किया जाएगा। नेत्रहीन और श्रवण बाधित छात्रों के लिए सरकार रेडियो पॉडकास्ट भी करेगी। सरकार द्वारा सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे ताकि देशव्यापी तालाबंदी के कारण छात्रों की शिक्षा प्रभावित न हो।

पीएम ई विद्या कार्यक्रम के उद्देश्य

PM eVIDYA कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य  देश के सभी छात्रों  को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना   है। तालाबंदी के कारण शिक्षा सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में से एक है। इसलिए भारत सरकार ने देश के सभी छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने के लिए यह कार्यक्रम शुरू किया है। सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने जा रही है कि देशव्यापी तालाबंदी के कारण छात्रों की शिक्षा प्रभावित न हो। अब देश के छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए शारीरिक रूप से उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वे अपने घर के आराम से शिक्षा प्राप्त करेंगे। इससे समय और धन की काफी बचत होगी और सिस्टम में पारदर्शिता भी आएगी

पीएम ई विद्या कार्यक्रम की मुख्य विशेषताएं

के बारे में लेखपीएम ई विद्या कार्यक्रम
द्वारा लॉन्च किया गयाभारत सरकार
लाभार्थियोंछात्र
उद्देश्यछात्रों को शिक्षित करने के लिए
आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.swayamprabha.gov.in/
वर्ष2020
योजना उपलब्धता30 मई 2020 से

पीएम ईविद्या कार्यक्रम के लाभ

  • पीएम ई विद्या  कार्यक्रम के माध्यम से शिक्षा तक डिजिटल/ऑनलाइन/ऑन एयर पहुंच सुनिश्चित की जाएगी 
  • इस कार्यक्रम से 25 करोड़ से अधिक स्कूली बच्चों को लाभ होने वाला है
  • देश के शीर्ष सौ विश्वविद्यालय 30 मई 2020 के बाद ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से छात्रों को शिक्षित करना शुरू करेंगे
  • उन सभी छात्रों के लिए जिनके पास इंटरनेट तक पहुंच नहीं है, प्रभा टीवी चैनल शिक्षा प्रदान करने के लिए लॉन्च किया जाएगा
  • इस योजना के तहत 12 और इसी तरह के चैनल लॉन्च किए जाएंगे
  • दीक्षा प्लेटफॉर्म भी लॉन्च किया जाएगा जिसमें सभी वर्गों के लिए ई-कंटेंट और क्यूआर कोड एनर्जेटिक किताबें शामिल होंगी
  • इस कार्यक्रम को एक राष्ट्र एक डिजिटल प्लेटफॉर्म भी कहा जाएगा
  • कक्षा एक से 12वीं तक के छात्रों के लिए एक कक्षा एक चैनल नामक टीवी चैनल भी शुरू किया जाएगा
  • दृष्टिबाधित और श्रवण बाधित छात्रों के लिए सरकार भी करेगी रेडियो पॉडकास्ट
  • सरकार द्वारा सभी महत्वपूर्ण कदम उठाए जाएंगे ताकि  देशव्यापी तालाबंदी के कारण छात्रों की शिक्षा  प्रभावित न हो
  • इस कार्यक्रम के माध्यम से छात्र अपने घर के आराम से शिक्षा प्राप्त करेंगे
  • यह कार्यक्रम छात्रों की सभी सीखने की जरूरतों के लिए एक स्थान पर समाधान होगा
  • इस योजना के तहत प्रतियोगी परीक्षा के लिए ऑनलाइन कोचिंग भी प्रदान की जाएगी

youth parliament 2022 registration:

PM eVIDYA कार्यक्रम के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • शीर्ष सौ विश्वविद्यालयों को 30 मई 2020 से ऑनलाइन कक्षाएं शुरू करने की अनुमति दी जाएगी
  • शिक्षा के लिए रेडियो, सामुदायिक रेडियो और पॉडकास्ट के उपयोग का सुझाव वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया है
  • दृष्टिबाधित और श्रवण बाधित छात्रों के लिए एक विशेष प्रकार की ई-सामग्री प्रदान की जाएगी
  • कक्षा पहली से 12वीं तक प्रति कक्षा एक समर्पित चैनल होगा जिसे ‘एक वर्ग, एक चैनल’ के नाम से जाना जाएगा।
  • दीक्षा को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए लॉन्च किया जाएगा जिसमें सभी ग्रेड के लिए ई-कंटेंट और क्यूआर कोडेड एनर्जेटिक टेक्स्टबुक होगी, जिसे ‘एक राष्ट्र, एक डिजिटल प्लेटफॉर्म’ के रूप में जाना जाएगा।
  • मानसिक स्वास्थ्य और भावनात्मक कल्याण के लिए चैनल कॉल मनोदर्पण शुरू होगा छात्र, शिक्षक और परिवार
  • स्कूल, प्रारंभिक बचपन और शिक्षकों के लिए एक नया राष्ट्रीय पाठ्यक्रम और शैक्षणिक ढांचा शुरू किया जाएगा जो वैश्विक और 21 वीं सदी की कौशल आवश्यकताओं के साथ एकीकृत है।
  • राष्ट्रीय आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मक मिशन यह सुनिश्चित करने के लिए कि 2020 तक प्रत्येक बच्चा सीखने के स्तर और ग्रेड 5 में परिणाम प्राप्त करे, दिसंबर 2020 तक शुरू किया जाएगा।
  • स्वयं प्रभा डीटीएच चैनल सभी कक्षाओं के लिए लॉन्च होगा ताकि जिस छात्र के पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है वह अध्ययन कर सके
  • विशेषज्ञ स्काइप के माध्यम से घर बैठे लाइव इंटरएक्टिव सत्र करेंगे
  • इसने टाटा स्काई और एयरटेल जैसे निजी डीटीएच ऑपरेटरों को 2 साल का एजुकेशन वीडियो बना दिया है
  • 200 नई पाठ्यपुस्तकें जोड़ेगी ओ ई-पाठशाला

पीएम ई विद्या कार्यक्रम के मॉडल

ज्ञान साझा करने के लिए डिजिटल अवसंरचना-

यह मंच औपचारिक रूप से 5 सितंबर 2017 को भारत के उपराष्ट्रपति द्वारा लॉन्च किया गया है। इस मंच के माध्यम से निर्धारित स्कूल पाठ्यक्रम की आवश्यकता के अनुरूप शिक्षण सामग्री प्रदान की जाती है। इस पोर्टल को अंग्रेजी और कई अन्य भाषाओं में एक्सेस किया जा सकता है। इस मंच में एक मनोरंजक कक्षा अनुभव बनाने के लिए पाठ योजनाएं, कार्यपत्रक और गतिविधियां भी शामिल होंगी

स्वयंवर पोर्टल-

यह पोर्टल भारत सरकार द्वारा शिक्षा के तीन प्रमुख सिद्धांतों यानी पहुंच, समानता और गुणवत्ता को प्राप्त करने के लिए शुरू किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से सभी छात्रों के लिए सर्वोत्तम शिक्षण-अधिगम संसाधन उपलब्ध हैं जिनमें सबसे अधिक वंचित भी शामिल हैं। कोई भी छात्र किसी भी समय इस पोर्टल को निःशुल्क एक्सेस कर सकता है। मई 2020 तक लगभग 90000 छात्र इस पोर्टल पर पहले ही नामांकन कर चुके हैं। यह पोर्टल वीडियो व्याख्यान, विशेष रूप से तैयार की गई पठन सामग्री, स्व-मूल्यांकन परीक्षण और संदेहों को दूर करने के लिए एक ऑनलाइन चर्चा मंच प्रदान करता है।

स्वयं प्रभा टीवी चैनल-

स्वयं प्रभा टीवी का उद्घाटन 7 जुलाई 2017 को हुआ था। यह डीटीएच चैनलों का एक समूह है जो गुणवत्तापूर्ण शैक्षिक कार्यक्रमों के प्रसारण के लिए समर्पित है। इन कार्यक्रमों का प्रसारण 24 घंटे और सप्ताह में 7 दिन किया जाएगा। यह चैनल जीसैट 15 उपग्रह का उपयोग करके संचालित होता है। मेजबान के माध्यम से नई सामग्री को दिन में कम से कम 4 घंटे कवर किया जाता है। यह सामग्री दिन में 5 बार दोहराई जाएगी ताकि छात्र अपनी सुविधा का समय चुन सकें

रेडियो, सामुदायिक रेडियो और पॉडकास्ट का व्यापक उपयोग-

सरकार शैक्षिक उद्देश्यों के लिए शैक्षिक वेब रेडियो स्ट्रीमिंग, ऑडियो का आयोजन करने जा रही है ताकि वे छात्र जो दृष्टिबाधित हैं या जिनकी शिक्षा के अन्य स्रोतों तक पहुंच नहीं है, वे शिक्षा प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं। ये रेडियो पॉडकास्ट मुक्त विद्या वाणी और शिक्षा वाणी पॉडकास्ट के माध्यम से आयोजित किए जाएंगे

विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिए विशेष रूप से ई-कंटेंट-

विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को विशेष ई-कंटेंट उपलब्ध कराया जाएगा। राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान अपनी वेबसाइट को विकलांग लोगों के लिए सुलभ बनाएगा। वेबसाइट के माध्यम से कीबोर्ड सपोर्ट, नेविगेशन में आसानी, डिस्प्ले सेटिंग, सामग्री की पठनीयता और संरचना, छवियों के लिए वैकल्पिक विवरण और ऑडियो-वीडियो विवरण प्रदान किया जाएगा ताकि छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने में किसी भी बाधा का सामना न करना पड़े।

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन कोचिंग-

आईआईटी जैसी विभिन्न प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए नीट उच्च शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की है। विभाग ने व्याख्यान की एक श्रृंखला तैयार की है ताकि छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकें। पोर्टल पर 193 भौतिकी वीडियो, 218 गणित वीडियो, 146 रसायन विज्ञान वीडियो और 120 जीव विज्ञान वीडियो अपलोड किए गए हैं। परीक्षण अभ्यास के लिए, अभ्यास मोबाइल ऐप विकसित किया गया है। यह ऐप अंग्रेजी और हिंदी दोनों में तैयारी के लिए हर दिन 1 टेस्ट प्रकाशित करेगा। IITPal की तैयारी के लिए व्याख्यान स्वयं प्रभा चैनल पर प्रसारित किए जाएंगे। इसके लिए चैनल नंबर 22 आवंटित किया जाएगा

पात्रता मानदंड और PM eVIDYA कार्यक्रम के आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक एक छात्र होना चाहिए
  • आवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए
  • Aadhar card
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • राशन पत्रिका
  • आय प्रमाण पत्र
  • आवास प्रामाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना 2022

पीएम ई विद्या कार्यक्रम के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

अगर आप पीएम ई विद्या कार्यक्रम का लाभ लेना चाहते हैं   तो आपको कहीं भी आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। आप सीधे आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं और इस योजना के तहत उपलब्ध सभी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। यह योजना सभी छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए भारत सरकार की एक पहल है। सरकार द्वारा सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे ताकि राष्ट्रव्यापी तालाबंदी के कारण छात्रों की शिक्षा प्रभावित न हो|

पीएम ई विद्या योजना पोर्टल छात्र पंजीकरण

  • प्रधानमंत्री ई विद्या योजना के पंजीकरण के लिए विद्यार्थियों को इसकी आधिकारिक वेबसाइट (pm e vidya website) www.diksha.gov.in पर जाकर पंजीकरण करना होगा जिसके बाद लॉगिन करके इसका लाभ लिया जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.