निर्विक स्कीम|निर्यात ऋण विकास योजना

Capture.png

निर्यात ऋण विकास योजना|निर्विक योजना|Niryat Rin Vikas Yojana|nirvik scheme

आज हम अपनी इस आर्टिकल में निर्यात ऋण विकास योजना की जानकारी देने जा रही हैं| हम आपको बताएंगे कि निर्विक योजना (Niryat Rin Vikas Yojana) क्या है|वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट 2021 में छोटे निर्यातकों के लिए बीमा कवर बढ़ाने और उसकी लागत कम करने के लिए निर्विक (निर्यात ऋण विकास) योजना की घोषणा की|उच्च निर्यात लोन वितरण को हासिल करने के लिए एक नई योजना ‘निर्विक’ शुरू की जा रही है| यह छोटे निर्यातकों के लिए अधिक बीमा कवर, कम प्रीमियम और दावा निस्तारण के लिए सरल प्रक्रियाओं का प्रावधान करती है|

उच्च निर्यात लोन वितरण को हासिल करने के लिए एक नई योजना ‘निर्विक’ शुरू की जा रही है| यह छोटे निर्यातकों के लिए अधिक बीमा कवर, कम प्रीमियम और दावा निस्तारण के लिए सरल प्रक्रियाओं का प्रावधान करती है|Niryat Rin Vikas के तहत कुछ प्रमुख क्षेत्रों में निर्यातकों द्वारा दिए जाने वाले प्रीमियम पर सब्सिडी देने का प्रस्ताव भी रखा है|निर्यात ऋण गारंटी निगम इस समय घाटे के 60 फीसदी तक ऋण गारंटी मुहैया कराता है|

निर्यात ऋण विकास योजना|Niryat Rin Vikas Yojana

वित्त मंत्री ने घोषणा की है कि सरकार एक ‘निर्विक’ ( निर्यात ऋण विकास योजना) योजना लाने जा रही है, जिसके तरह निवेशकों को लोन दिया जाएगा। साथ ही अगले पांच साल में 100 लाख करोड़ रुपये का निवेश कराने का टारगेट है। साथ ही इस योजना में 90 फीसदी तक इंश्योरेंस दिया जाएगा। इसके लिए सरकार इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफैक्चरिंग इंडस्ट्री में ज्यादा काम करेगी और मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चर को बढ़ावा दिया जाएगा।

वित्त मंत्री ने घोषणा की है कि सरकार एक ‘निर्विक’ ( Niryat Rin Vikas scheme)  लाने जा रही है| जिसके तरह निवेशकों को लोन दिया जाएगा। साथ ही अगले पांच साल में 100 लाख करोड़ रुपये का निवेश कराने का टारगेट है। साथ ही इस योजना में 90 फीसदी तक इंश्योरेंस दिया जाएगा। इसके लिए सरकार इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफैक्चरिंग इंडस्ट्री में ज्यादा काम करेगी और मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चर को बढ़ावा दिया जाएगा।

NIRVIK Scheme 2021 का उद्देश्य

  • प्रधानमंत्री निर्विक योजना को शुरू करने के पीछे मुख्य कारण निर्यातकों के लिए ऋण की उपलब्धता और सामर्थ्य को बढ़ावा देना है।
  • यह फैसला भारतीय निर्यात को प्रतिस्पर्धी बनाने और ईसीजीसी प्रक्रियाओं को निर्यातक के अनुकूल बनाने के लिए सहायता करेगा।
  • यह नई योजना करों की प्रतिपूर्ति के साथ MSME निर्यातकों को लाभान्वित करेगी। ECGC बीमा कवर बैंकों को अन्य सुविधा प्रदान करेगा।
  • उधारकर्ता की क्रेडिट रेटिंग खाते में बढ़ाई जाएगी।
  • बढ़े हुए बीमा कवर से यह सुनिश्चित होगा कि निर्यातकों के लिए विदेशी और रुपये निर्यात ऋण की ब्याज दर 4 प्रतिशत और 8 प्रतिशत से नीचे है।
  • केंद्र सरकार की निर्यात ऋण विकास योजना (NIRVIK Scheme) बीमा कवर से पूंजीगत राहत के कारण ऋण की लागत में कमी आने के आसार हैं। 

निर्विक स्कीम 2021 के लाभ

  1. Niryat Rin Vikas Yojana ECGC प्रक्रियाओं को निर्यातक के अनुकूल बना देगी।
  2. यह योजना भारतीय निर्यात को प्रतिस्पर्धी बनाने में सहायता करेगी।
  3. निर्यातकों के लिए ऋण की उपलब्धता में वृद्धि करेगा।
  4. दावों के तुरंत निपटाने के कारण पूंजीगत राहत, कम प्रावधान की जरुरत और तरलता के कारण बीमा कवर में ऋण की लागत में कमी आने के आसार है।
  5. निर्यात ऋण विकास योजना निर्यात क्षेत्र के लिए समय पर और पर्याप्त कार्यशील पूंजी सुनिश्चित करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top