राजस्थान मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना

Rajasthan kisan mitra urja yojana|kisan mitra urja yojana rajasthan|राजस्थान मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना”किसान मित्र ऊर्जा योजना

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना की जानकारी देने जा रहे हैं| हम आपको बताएंगे की mukhyamantri kisan mitra urja yojana rajasthan क्या है| आप किस प्रकार राजस्थान किसान मित्र ऊर्जा योजना का लाभ उठा सकते हैं| राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने किसान मित्र ऊर्जा योजना की शुरुआत की है|राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना के प्रारूप को मंजूरी दे दी है, जिसके तहत कृषि उपभोक्ताओं को हर महीने एक हजार रुपये अनुदान देने का प्रावधान है।

अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना के प्रारूप को मंजूरी दे दी है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा मीटर्ड कृषि उपभोक्ताओं को बिजली के बिल पर प्रतिमाह एक हजार रुपये और अधिकतम 12 हजार रुपये प्रति वर्ष का अनुदान दिया जाएगा।इससे प्रतिवर्ष एक हजार 450 करोड़ रूपये का वित्तीय भार आएगा।

इस योजना का लाभ मई, 2021 से मिलना शुरू होगा। इसके तहत विद्युत वितरण निगमों द्वारा द्विमासिक बिलिंग व्यवस्था के आधार पर पात्र कृषि उपभोक्ताओं को विद्युत विपत्र जारी किए जाएंगे। अनुपातिक आधार पर विद्युत विपत्र का 60 प्रतिशत अधिकतम एक हजार रूपए प्रतिमाह देय होगा।

Mukhyamantri Kisan Mitra Urja Yojana

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वर्ष 2021-22 के बजट में सामान्य श्रेणी के ग्रामीण कृषि उपभोक्ताओं जिनका बिल मीटरिंग से आ रहा है, उन्हें प्रतिमाह एक हजार रुपये एवं प्रतिवर्ष अधिकतम 12 हजार रुपये अनुदान राशि देने की घोषणा की थी. मुख्यमंत्री की बजट घोषणा की अनुपालना में विद्युत वितरण निगमों द्वारा अनुदान राशि हस्तांतरण के लिए वर्ष 2021-22 के आय-व्ययक अनुमानों में 750 करोड़ रुपये का प्रावधान टैरिफ सब्सिडी मद में शामिल कर रखा गया है.

Rajasthan kisan mitra urja yojana 2021

योजना का नामराजस्‍थान मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीराजस्थान सरकार
लाभार्थीराज्य के किसान
उद्देश्यप्रोत्साहन धनराशि प्रदान करना
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट

मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना का उद्देश्य

Mukhyamantri Kisan Mitra Urja Yojana 2021 का मुख्य उद्देश्य किसानों को बिजली के बिल पर अनुदान प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से किसानों बिजली के बिल पर अधिकतम ₹1000 प्रतिमाह अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। जिससे कि किसान उपभोक्ताओं को अपने बिल का भुगतान करने में सहायता प्राप्त होगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना के माध्यम से किसानों को बिजली की बचत करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाएगा। जिसके लिए यदि किसान का बिल ₹1000 प्रति माह से कम का आता है तो इस स्थिति में बिल की राशि एवं अनुदान राशि के बीच का अंतर लाभार्थी के खाते में हस्तांतरित किया जाएगा।

विद्युत वितरण निगम में बकाया लाभार्थी के विरुद्ध बकाया

इस योजना का लाभ किसान उपभोक्ता द्वारा तभी उठाया जा सकता है जब लाभार्थी के विरुद्ध विद्युत वितरण निगम में कोई बकाया नहीं है। बकाया होने की स्थिति में यदि कृषि उपभोक्ता बकाया का भुगतान कर देता है तो इस स्थिति में अनुदान राशि आगमी बिजली के बिल में देय होगी। इसके अलावा यदि किसी किसान द्वारा बिजली का कम उपयोग किया जाता है और उसका बिजली का बिल ₹1000 से कम आता है तो बिल की राशि एवं अनुदान राशि के बीच का अंतर लाभार्थी के खाते में जमा करवा दिया जाएगा। जिससे कि किसान उपभोक्ता बिजली की बचत के लिए प्रोत्साहित हो सके। मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना का लाभ केंद्र एवं राज्य सरकार के कर्मचारियों द्वारा नहीं उठाया जा सकता। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को अपनी आधार संख्या को बैंक खाते से जोड़ना अनिवार्य होगा।

किसान मित्र ऊर्जा योजना

वर्ष 2021-22 के बजट में की गई घोषणा

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा वर्ष 2021-22 के बजट की घोषणा करते समय सामान्य श्रेणी के ग्रामीण कृषि उपभोक्ताओं को प्रतिमाह ₹1000 एवं प्रति वर्ष ₹12000 अनुदान राशि प्रदान करने की घोषणा की गई थी। यह घोषणा केवल उन्हीं कृषि उपभोक्ताओं के लिए की गई थी जिनका बिल मीटरिंग से आता है। इस घोषणा को ध्यान में रखते हुए विद्युत वितरण निगम द्वारा 750 करोड़ रुपए का प्रावधान टैरिफ सब्सिडी मद में भी शामिल किया गया था। यह प्रावधान अनुदान राशि हस्तांतरण के लिए निर्धारित किया गया है।

राजस्थान मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना जरूरी पात्रता

  • केंद्र एवं राज्य सरकार के कर्मचारी एवं आयकरदाता कृषि उपभोक्ता अनुदान राशि के लिए पात्र नहीं होंगे।
  • इसके तहत पात्र उपभोक्ताओं को अपने बैंक खाते को आधार संख्या के साथ जोड़ना होगा।
  • संबंधित उपभोक्ता के विरूद्ध विद्युत वितरण निगमों का बकाया नहीं होने पर ही अनुदान राशि दी जाएगी।
  • बकाया भुगतान कर देने पर उपभोक्ता को अनुदान राशि आगामी विद्युत बिल पर देय होगी।
  • यदि कोई किसान बिजली का कम उपभोग करता है और उसका बिल एक हजार रुपये से कम है, तो वास्तविक बिल एवं अनुदान राशि की अंतर राशि उसके बैंक खाते में जमा करवाई जाएगी।
  • इससे किसानों में बिजली की बचत को प्रोत्साहन मिलेगा।

यह उपभोक्ता मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना का लाभ नहीं उठा सकेंगे-

  • ऐसा कोई भी व्यक्ति जो राज्य सरकार के अंतर्गत राज्य कर्मचारी हो या फिर केंद्र का कर्मचारी हो तो, वह इस योजना का लाभ बिल्कुल भी नहीं ले सकता है |
  • ऐसा व्यक्ति जो आयकर टैक्स देता हो, वह भी व्यक्ति मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना का फायदा नहीं ले सकता |
  • यदि कोई ऐसा उपभोक्ता जिसने पहले बिजली का बिल नहीं चुकाया वह व्यक्ति भी Mukhyamantri Kisan Mitra Urja Yojana का फायदा नहीं उठा सकते |
  • पहले व्यक्ति को अपने सभी बिजली के बिल का भुगतान करना होगा, उसी के पश्चात वह इस योजना का लाभ ले सकते हैं l
  • जब बकाया बिल का भुगतान कर दिया जाएगा तो उसी के बाद से ही नए बिल से व्यक्ति को मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना का लाभ दिया जाएगा l
  • पुराने बिल पर मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा |

kisan mitra urja yojana के दस्तावेज़

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • आय प्रमाण पत्र
  • प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • शपथ पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना ऑनलाइन अप्लाई

  • राजस्थान मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना कि जल्दी ही ऑफिशियल साइट जारी कर दी जाएगी|
  • उसके बाद आप ऑनलाइन आवेदन कर इसलिए लाभ उठा सकते हैं|
  • आप आर्टिकल के पास जुड़े रहे|

Read more— राजस्थान  मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना

राजस्थान अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *