एम पी कृषि ऋण समाधान योजना|madhya pradesh Krishi Rin Samadhan Yojana

madhya-pradesh-

मध्य प्रदेश कृषि ऋण समाधान योजना 2020|mp कृषि ऋण समाधान योजना|मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना मध्यप्रदेश|कृषि ऋण समाधान योजना|कृषि ऋण समाधान योजना ंप|मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना|मध्य प्रदेश ऋण समाधान योजना|किसान समाधान योजना|MP Krishi Rin Samadhan Yojana in hindi|

प्यारे दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में एम पी कृषि ऋण समाधान योजना की जानकारी लेकर आए हैं| हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार मध्य प्रदेश कृषि ऋण समाधान योजना 2020 का लाभ उठा सकते हैं| मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान जी ने mp कृषि ऋण समाधान योजना की शुरुआत की है| मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना मध्यप्रदेश की शुरुआत किसानों के लिए की गई है|

कृषि ऋण समाधान योजना किसान आगामी 15 जून तक अपने बकाया ऋण के मूलधन की 50 प्रतिशत राशि जमा कर इस योजना का लाभ ले सकेंगे। आधिकारिक जानकारी के अनुसार योजना का लाभ लेने के लिये कृषक द्वारा बकाया मूलधन की 50 प्रतिशत राशि को 15 जून तक एक मुश्त अथवा किश्तों में जमा कराना होगा। इसके बाद निर्धारित प्रपत्र में आवेदन करना होगा।

mp कृषि ऋण समाधान योजना

MP Krishi Rin Samadhan Yojana डिफॉल्टर किसानों को राहत के तौर पर ब्याज माफ करने का प्लान लेकर आई है. जिन किसानों ने 30 जून 2017 तक अपने ऋण का भुगतान नहीं किया है, या फिर देने के काबिल नहीं हैं. उन किसानों को इस स्कीम के तहत राहत देने के लिए शामिल किया है.

कृषक द्वारा जिस दिनांक को शेष आधे मूलधन की राशि चुकाई जायेगी, उसी दिन कृषक को इस राशि के बराबर का शून्य प्रतिशत ब्याज का नवीन नगद ऋण स्वीकृत कर दिया जायेगा। साथ ही उस दिनांक को खाते में शेष बकाया ब्याज की पूरी राशि माफ कर दी जायेगी। कृषक को नवीन ऋण मान के अन्तर्गत उपलब्ध शेष साख सीमा का अतिरिक्त ऋण शून्य प्रतिशत ब्याज पर वस्तु ऋण के रूप में उपलब्ध होगा|

मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना

मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना में सम्मिलित होने वाले कृषकों को ख्ररीफ 2020 सीजन में नगद ऋण की मात्रा आधे मूलधन राशि से अधिक नहीं होगी।ऋण का शेष भाग वस्तु ऋण के रूप में होगा। आगामी रबी सीजन 2020-21और इसके बाद आने वाले कृषि मौसमों में यह बंधन लागू नहीं रहेगा और नगद एवं वस्तु ऋण का अनुपात नियमित श्रेणी के कृषकों की भांति रहेगा।

कृषि ऋण समाधान योजना ंप की परिधि में गबन, धोखाधड़ से संबंधित ऋण प्रकरण शामिल नहीं होंगे। जिला स्तर पर योजना का समयावधि में क्रियान्वयन कराने का उत्तरदायित्व जिले के उप/ सहायक आयुक्त, सहकारिता और मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक का होगा।

प्यारे दोस्तों एम पी कृषि ऋण समाधान योजना की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो हमारे कमेंट बॉक्स पर लिख दीजिए हम उसका उत्तर अवश्य देंगे आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं जिस प्रधानमंत्री की योजनाओं के साथ अपडेट रहेंगे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *