मध्यप्रदेश जीवन अमृत योजना|jeevan amrit yojana mp

Capture-26.png

जीवन अमृत योजना|jeevan amrit yojana| एमपी जीवन अमृत योजना|जीवन अमृत योजना एमपी|Madhya pradesh jeevan amrit yojana

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में मध्यप्रदेश जीवन अमृत योजना (jeevan amrit yojana mp) की जानकारी देने जा रहे हैं| मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान जी ने jeevan amrit yojana की शुरुआत की है| यह कोरोना वायरस वाला काढ़ा हमारी सहायता करेगा| इस योजना के तहत सरकार काढ़ा के पैकेट को निशुल्क वितरित करेगी| जीवन अमृत कार्ड हमारे शरीर की बीमारी लड़ने की क्षमता को बढ़ाएगा|कोरोना संक्रमण वाले इलाकों में सरकार की ओर से त्रिकटु चूर्ण बांटा जाएगा. 50 ग्राम का ये पैकेट प्रदेश के 1 करोड़ परिवारों में बांटने का लक्ष्य रखा गया है| 

इसे पीने से इम्युनिटी बढ़ेगी और इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है|इस चूर्ण से काढ़ा बनाया जाएगा. कहा जा रहा है कि ये काढ़ा कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने में कारगर होगा. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस त्रिकटु चूर्ण के एक करोड़ पैकेट तैयार कर लोगों तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं. सौंठ, पीपली और काली मिर्च मिलाकर ये चूर्ण बनाया गया है और अब ये घर-घर लोगों तक पहुंचाया जाएगा|

जीवन अमृत योजना|jeevan amrit yojana

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के लोगों से अपील की है कि वो इस चूर्ण का इस्तेमाल करें और कोरोना को दूर भगाएं|मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि आयुष पद्धति के जरिए कई गंभीर बीमारियों का इलाज संभव है और ऐसे में वन विभाग की ओर से तैयार किया गया ये त्रिकुट चूर्ण कोरोना से बचाव में असरकार होगा|आयुष विभाग का दावा है कि इस चूर्ण से बनने वाले काढ़े का इस्तेमाल करने से गले का इफेक्शन दूर हो जाता है क्योंकि कोरोना वायरस का अटैक सीधे गले पर होता है. ऐसे में काढ़े का इस्तेमाल करने पर संक्रमण का खतरा कम हो जाएगा|

Madhya pradesh jeevan amrit yojana मुख्य उद्देश्य

ये त्रिकुट चूर्ण मध्य प्रदेश लघु वनोपज संघ बना रहा है. 50 ग्राम का ये पैकेट होगा जो आयुष विभाग निशुल्क बांटेगा|

पूरे प्रदेश में एक करोड़ परिवारों तक काढ़े का पैकेट बांटने का लक्ष्य रखा गया है|

दावा है कि इसे पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी|

इससे सर्दी-ज़ुकाम सहित कोरोना से लड़ने में मदद मिलेगी इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है|

त्रिकुट चूर्ण इस प्रकार सेवन करें

उन्होंने कहा,” पीपल, सोंठ एवं काली-मिर्च को समान मात्रा में मिलाकर तथा कूटकर तैयार किए गए त्रिकटु चूर्ण को 3-4 तुलसी के पत्‍तों के साथ एक लीटर पानी में उबालें. जब पानी आधा रह जाए, तब लगभग एक-एक कप कुनकुना काढ़ा दिन में तीन से चार बार पिएं

मध्यप्रदेश जीवन अमृत योजना आपको कैसे प्राप्त होगा

इंदौर में भी लोगों का इम्यून सिस्टम मजबूत करने और रेजिस्टेंस बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक दवाइयों को घर घर पहुंचाया जाएगा.|

कलेक्टर मनीष सिंह का कहना है कि शहर के कंटेनमेंट एरिया के लोगों को आयुष डॉक्टर आयुर्वेदिक दवाइयों के साथ ही काढ़ा उपलब्ध कराएंगे|

जिससे लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सकें और उनमें कोरोना से लड़ने की ताकत आ जाए|

आयुष डॉक्टरों और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के डॉक्टरों की साथ हुई बैठक में कलेक्टर ने ये निर्देश दे दिए हैं|

पहले कम खतरे वाले कंटेनमेंट एरिया में डॉक्टर जाएंगे उसके बाद शहरभर में आयुष डॉक्टर काढ़ा और च्यवनप्राश जैसी दवा बांटेगें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top