महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना|ऑनलाइन आवेदन

maharashtra

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना|ऑनलाइन आवेदन|दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना|दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना महाराष्ट्र |

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना का मुख्य उद्देश्य एसटी/एससी/अल्पसंख्यक और अति पिछड़े वर्ग को उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। जिससे यह छात्र भी अपने सपनों को पूरा करने में कामियाब हो। अक्सर देखा गया है कि कई छात्र घर की आर्थिक स्थिति के कारण उच्च शिक्षा मज़बूरन वश छोड़ देते है। ऐसे में राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली वित्तीय सहायता इन छात्रों को आगे पढ़ने के लिए प्रेरित करेगी।जिसके घोषणा स्वयं राज्य मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणीस ने की है।

ये योजना राज्य के एसटी/एससी/अल्पसंख्यक और अति पिछड़े वर्ग को उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।महाराष्ट्र में आदिवासी छात्रों के लिए ‘दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना’  की बेहतरीन शुरुआत की जा रही है। जिसके तहत राज्य सरकार उन छात्रों को वित्तीय सहयोग देगी जो पढ़ाई में काबिल होने के बावजूद नियमित आय होने के कारण उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते। बतातें चलें कि इस ख़ास योजना का शुभारंभ महाराष्ट्र राज्य सरकार की सामाजिक न्याय और कल्याण मंत्रालय द्वारा की गई है।

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना के तहत कोई भी विद्यार्थी महाराष्ट्र राज्य समेत भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से उच्च शिक्षा के लिए लाभान्वित हो सकता है।प्रत्येक छात्र को, तकनीकी, व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के अलावा अन्य पाठ्यक्रमों में अपनी पढ़ाई के लिए राज्य सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।योजना के अंतर्गत उच्च शिक्षा के लिए महाराष्ट्र के मेधावी आदिवासी छात्रों को वित्तीय सहायता दी जाएगी।ये योजना ख़ासतौर से अनुसूचित आदिवासी समुदायों के लिए शुरु की गई है, जो कि आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग की श्रेणी में आते है।योजना के अधीन एक तरह से आदिवासी छात्रों को छात्रवृत्ति के रुप में वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी, जिससे उच्च शिक्षा में उनकी दर में वृद्धि हो सके।इस योजना के जरिए आदिवासी समुदायों को शिक्षा के माध्यम से रोजगार और सशक्तीकरण को बढ़ाने के साथ सामाजिक-आर्थिक स्थितियों में बेहतर अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे।

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना पात्रता

  • उम्मीदवार महाराष्ट्र राज्य का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  • वह SC/ST/ OBS जनजाति एवं आदिवासी समुदाय से संबंधित होना चाहिए।
  • बोर्ड/ विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित पूर्ववर्ती परीक्षा में अभ्यर्थी को कुल अंक में से कम से कम 60 प्रतिशत अंक सुरक्षित करना जरुरी है

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना वित्तीय सहायता 

  • Tier 1 cities: Rs.6000 per month
  • Tier 2 cities: Rs. 5000 per month
  • Tier 3 cities: Rs. 4000 per month
  • जिन मेडिकल छात्रों की पारिवारिक आय प्रतिवर्ष 2.5 से 6 लाख के बीच है और जिन्होंने शिक्षा ऋण लिया है, सरकार उनके द्वारा लिए गए ऋण के हित का भुगतान करेगी।

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना जरुरी दस्तावेज़

  • जाति प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • गैर मलाईदार परत प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • स्कूल मार्क शीट्स
  • स्कूल सर्टिफिकेट
  • बोनफाइड प्रमाण पत्र
  • बैंक विवरण में डाली जानें वाली जानकारी
  • आईएफएससी कोड
  • एनआईसीआर कोड
  • खाता संख्या
  • खाता धारक
  • धारक का नाम
  • शाखा का नाम

महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना ऑनलाइन आवेदन

इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करें 

  • एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई जानकारी ध्यानपूर्वक भरिए|
  • सबमिट बटन पर क्लिक करिए
  • आप का फॉर्म भरा हुआ माना जाएगा

दोस्तों आपको महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना ऑनलाइन आवेदन किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

 

24 thoughts on “महाराष्ट्र दीनदयाल उपाध्याय स्वयं योजना|ऑनलाइन आवेदन

  1. Aarthic paristithi changali naslya mude mla madhatunch shikshsan sodave lagel aase vatat aahe karn room bhad Ani dabyacha knarch mla parvagja joga mahi.mi obc girl student aahe mazya sathi hi yojna aahe ka sir?jar mla ya yojne pasun kahi madat midt aasel tar nakki sanga ya yojne pasun mla khup apeksha aahe…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *