[सब्सिडी] झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना|jharkhand petrol subsidy app

jharkhand petrol subsidy yojana

jharkhand petrol news|jharkhand petrol price subsidy|jharkhand petrol subsidy|petrol subsidy in jharkhand

झारखंड सरकार ने गरीबों को बड़ी राहत देते हुए Petrol के दाम घटाने का ऐलान किया है. झारखंड में अब गरीब यानी बीपीएल या राशन कार्ड धारकों को पेट्रोल 25 रुपए लीटर सस्ता मिलेगा| झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने ऐलान किया है कि ये petrol subsidy in jharkhand app 26 जनवरी को लागू होगी|सीएम हेमंत सोरेन ने कहा, पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं. इसका बुरा असर गरीब और मध्यम वर्ग के परिवारों पर हो रहा है. एक गरीब व्यक्ति के घर में मोटर साइकिल होते हुए भी पेट्रोल के पैसे नहीं होने के चलते वह इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं| ऐसे में मैंने फैसला लिया है कि राशन कार्ड धारक अगर मोटरसाइकिल या स्कूटर में पेट्रोल भरवाते हैं, तो उन्हें 25 रुपए लीटर की दर से सब्सिडी मिलेगी|

सरकार ने बीपीएल(BPL) कार्ड धारकों को 26 जनवरी से पेट्रोल-डीजल 25 रुपये सस्ता देने की घोषणा की है. सरकार इसके लिए सब्सिडी देगी और डायरेक्ट कैश ट्रांसफर से गरीबों के खाते में पैसा दिया जाएगा|मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि, पेट्रोल-डीजल के मूल्य में लगातार इजाफा हो रहा है, इससे गरीब और मध्यम वर्ग के लोग सबसे अधिक प्रभावित हैं एक किसान के घर में मोटरसाइकिल होने के बाद भी वह अपनी फसल बेचने बाजार नहीं जा पा रहा. इसलिए सरकार ने राज्य स्तर से दुपहिया वाहन के लिए पेट्रोल पर प्रति लीटर ₹25 की राहत देगी, इसका लाभ 26 जनवरी 2022 से मिलना शुरू होगा .इस योजना में एक गरीब परिवार प्रतिमाह 10 लीटर पेट्रोल-डीजल तक यह राशि प्राप्त कर सकता है|

Read more

भु नक्शा झारखण्ड: अपना खाता Jharbhoomi Jamabandi Nakal, Jharkhand Bhu Naksha

झारखंड भूलेख खतौनी खसरा|खसरा नक्शा| JHARKHAND Jamabandi Bhulekh Khasra Khatauni In Hindi

झारखंड  के प्यारे वासियों अब आपके लिए  पोर्टल  योजना को निकाला गया है ताकि  के लोग अपनी भूमिका रिकॉर्ड घर बैठे ऑनलाइन देख सकते हैं|भूलेख शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है  भू+लेख – भू का अर्थ भूमि से है और लेख का अर्थ लेखन या कागजी लिखवाई से है। अर्थात् भूमि से सम्बन्धित लिखित रूप में जानकारी।

इस पोर्टल योजना का मुख्य उद्देश्य झारखंड के लोगों को उनकी भूमि के बारे में जानकारी देना है आमतौर पर यह रिकॉर्ड राज्य सरकार के राजस्व भूमि सुधार विभाग भूमि संसाधन विभाग के पास सुरक्षित होते थे लेकिन इस  योजना के तहत लोग अपनी जमाबंदी ऑनलाइन देख सकते हैं जैसे कि अपनी भूमि या खेत की जमाबंदी की नकल खसरा नंबर का नक्शा अभी अब आपको इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन देख सकते हैं|

Read more

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana 2022|झारखण्ड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana Apply Online| झारखण्ड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना ऑनलाइन आवेदन झारखंड सरकार ने कहा है कि सरकार की प्राथमिकता राज्य में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा है … Read more

Jharkhand Guruji Credit Card yojana|झारखण्ड गुरुजी क्रेडिट कार्ड योजना 2022

Jharkhand Guruji Credit Card yojana

Jharkhand Guruji Credit Card Scheme|झारखण्ड गुरूजी क्रेडिट कार्ड योजना|Guruji Credit Card Scheme|गुरुजी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना:झारखंड सरकार द्वारा राज्य के होनहार युवाओं के मार्गदर्शन करने के लिए एक  नए … Read more

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना|Jharkhand Shramik Rojgar Yojana

झारखण्ड  श्रमिक रोजगार योजना|झारखण्ड शहरी श्रमिक रोजगार योजना|झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना|Jharkhand Shramik Rojgar Yojana|Jharkhand Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana |

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना की जानकारी लेकर आए हैं| हम आपको बताएंगे कि झारखंड शहरी श्रमिक रोजगार योजना 2022 क्या है|आप किस प्रकार झारखंड श्रमिक योजना का लाभ उठा सकते हैं| झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रोजगार योजना की शुरुआत की है|हेमंत सोरेन सरकार ‘मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना के तहत लोगों को महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना की तरह कम से कम 100 दिन के रोजगार की गारंटी दी जाएगी|

नगर विकास एवं आवास विभाग ने इस योजना को लागू करने की दिशा में काम भी शुरू कर दिया है|इस योजना के तहत झारखण्ड के शहरी प्रवासी मजदूरों को रोजगार के लिए मनरेगा की तरह ही जॉब कार्ड प्रदान किया जायेगा।इस Jharkhand Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana के अंतर्गत  शहरी क्षेत्र में रहने वाले अकुशल प्रवासी मजदूर को रोजगार प्रदना किया जायेगा|

  ताकि वे अपनी आजीविका अच्छे से चला सके और  श्रमिकों को रोजगार के लिए दुसरे प्रदेश न जाना पड़ें, उन्हें अपने वार्ड क्षेत्र में ही आसानी से काम मिल जाये। राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें इस झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना के तहत आवेदन करना होगा|

Read more