मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल

[रजिस्ट्रेशन] हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल| ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म

haryana

मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा|हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल|हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना|मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल| haryana meri fasal mera byora portal in hindi|

प्यारे दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल (meri fasal mera byora 2020) की जानकारी देंगे| हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार इस मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा का लाभ उठा सकते हैं| हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा के किसानों के लिए हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा नामक पोर्टल शुरुआत की है|haryana meri fasal mera-byora portal  के जरिए हरियाणा के किसानों की फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर दर्ज किया जाएगा|

हरियाणा के किसान भाई अपनी फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दे सकते हैं|फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन करने का कार्य गावों में स्थित सामान्य सेवा केंद्रों के वीएलई (वीलेज लेवल इंटरप्रन्योर) करेंगे जिसके लिए उन्हें सरकार द्वारा 5 रुपये प्रति खेवट की दर से भुगतान किया जाएगा।इस पोर्टल पर आने वाली सूचनाओं को कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ साझा किया जाएगा।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल  किसान राज्यव्यापी इस पोर्टल पर तक अपनी खरीफ फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवा सकेंगे।मेरी फसल मेरा ब्यौरा खरीफ फसल-2020 के तहत बोई जाने वाली फसलों की जानकारी प्राप्त करने तथा विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र किसानों को देने के लिए प्रदेश सरकार ने राज्य स्तरीय फसल ई-सूचना नामक मेरी फसल मेरा ब्यौरा ई दिशा पोर्टल लॉन्च किया है।

इस अवधि के दौरान गावों में कार्यरत वीएलई सभी किसानों की फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवाएंगे जिसके लिए किसानों को कोई भुगतान नहीं करना है। वीएलई को इस कार्य के लिए प्रदेश सरकार द्वारा सीधे उसके खाते में भुगतान किया जाएगा।

मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ पोर्टल हरियाणा

हरियाणा सरकार ने गेहूं की खरीद के लिए किसानों का ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर पंजीकरण शुरू करवा दिया है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के अनुसार सरसों की खरीद 15 तो गेहूं की खरीद 20 अप्रैल तक होगी और इसके लिए किसान 19 अप्रैल तक पोर्टल पर पंजीकरण करा सकते हैं|जिन किसानों ने ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर पंजीकरण करवाया है, उनकी उपज की खरीद प्राथमिकता आधार पर की जाएगी। अब तक लगभग 60 प्रतिशत किसानों ने गेहूं की फसल का पंजीकरण करवाया है, जबकि 40 प्रतिशत किसानों ने अब तक पंजीकरण नहीं करवाया है।

बैठक में आढ़ती एसोसिएशन ने आश्वासन दिया कि वे अपनी 2.5 प्रतिशत आढ़त में से 0.10 प्रतिशत राशि ‘हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड’ में सहयोग के रूप में देंगे।  बैठक में इस बात का निर्णय भी लिया गया कि लॉकडाउन के चलते देरी से गेहूं की खरीद आरंभ होने के कारण केंद्र सरकार जो दिशा-निर्देश देगी, उसी के अनुरूप किसानों को बोनस या प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस बार गेहूं की खरीद जून माह तक चलने की संभावना है।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के लाभ

  • इसके लिए किसानों की सुविधा के लिए गाव में कार्यरत सामान्य सेवा केंद्रों के वीएलई को आदेश दिए गए हैं |
  •  इस कार्य में किसानों की नि:शुल्क मदद करेंगे।
  • किसान चाहे तो घर बैठे भी इस पोर्टल पर जाकर अपने फसल का विवरण दर्ज कर सकते हैं।
  • हरियाणा सरकार सामान्य सेवा केंद्रों को इस सेवा के बदले पर खेवट 5 रूपये का भुगतान करेगी।
  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन पर आने वाली सूचनाओं को कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ साझा किया जाएगा। किसानों द्वारा अपलोड की जाने वाली सूचना किसी अन्य कानूनी क्लेम में प्रयोग नहीं की जा सकेगी।
  • इसके अलावा जमाबंदी संबंधी डाटा भी पटवारियों द्वारा साझा किया जाएगा। इससे किसानों की फसलों की खरीद प्रक्त्रिया आसान हो जाएगी।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (meri fasal mera byora online registration haryana) करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करिए
  • इस वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल लिंक दिखाई देगा|
  • उस लिंक पर क्लिक करिए|
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई जानकारी को ध्यान पूर्वक से भरिए|
  •  उसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करिए|

प्यारे दोस्तों की हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं हमारे कमेंट बॉक्स पर लिख दीजिए हम उसका उत्तर अवश्य देंगे आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं जिससे आप हरियाणा की योजनाओं के साथ अपडेट रहेंगे|

68 thoughts on “[रजिस्ट्रेशन] हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल| ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म

  1. फसल पक चुकी है ।खरीद सुनिश्चित की जाय।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *