छत्तीसगढ़ दिव्यांग छात्रों छात्रगृह योजना|

छत्तीसगढ़ दिव्यांग छात्रों छात्रगृह योजना|छत्तीसगढ़ छात्रगृह योजना|दिव्यांग छात्रों छात्रगृह योजना छत्तीसगढ़|

दिव्यांगों के लिए ‘क्षितिज अपार संभावनाएं’ के अंतर्गत तीन योजनाएं संचालित, दिव्यांगजन हितैषी सरकारी योजना से अब नए आकाश दिखने लगे हैं
रायपुर, 13 जुलाई 2017 – राज्य सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा दिव्यागों के लिए ‘क्षितिज अपार संभावनाओं’ के तहत तीन योजनाएं संचालित की जा रही है। दिव्यांगजन सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के तहत दिव्यांग मेधावी विद्यार्थी को सिविल सेवा के क्षेत्र में प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना वर्ष 2016 से प्रारंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण होने पर 20 हजार मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण होने पर 30 हजार तथा संघ या छत्तीसगढ़ लोक सेवा में चयन होने पर 50 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि एकमुश्त दी जाती है।

    दिव्यांगजन शिक्षा प्रोत्साहन योजना

 के तहत 18 वर्ष तक की आयु के दिव्यांग बच्चों को निःशुल्क शिक्षा दिए जाने का प्रावधान है। सामान्यतः आर्थिक अभाव एवं निःशक्तता के कारण मेधावी निःशक्त बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करने से वंचित हो जाते हैं। उन्हें सहारा देने के लिए सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले दिव्यांग विद्यार्थियों एवं तकनीकी एवं उच्च शिक्षा में अध्ययनरत नियमित दिव्यांग छात्रों को प्रोत्साहन राशि 2016 से प्रदान की जाती है। जिले से दसवीं में सबसे अधिक अंक प्राप्त करने वाले दिव्यांग छात्र-छात्राओं को दो हजार रूपए तथा 12वीं में सबसे अधिक अंक लाने वाले छात्र-छात्राओं को पांच हजार रूपए। आई.टी.आई. पॉलिटेक्निक स्नातक एवं स्नातकोत्तर (कला, वाणिज्य, विज्ञान) में अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों को छह हजार रूपए प्रतिवर्ष चिकित्सा, तकनीकी, व्यावसायिक शिक्षा विद्यार्थियों को बारह हजार रूपए प्रतिवर्ष प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

    दिव्यांगजन छात्रगृह योजना के तहत दिव्यांग छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करने उनके अधिकारों की सरंक्षण के लिए पांच दिव्यांग विद्यार्थियों के समूह को किराए के भवन में निःशुल्क आवास सुविधाएं उपलब्ध कराने की योजना 2016 से प्रारंभ की गई है। योजना से राज्य के दिव्यांग विद्यार्थी देश के अन्य राज्यों में भी अध्ययन हेतु छात्रगृह का लाभ ले सकेंगे – ए श्रेणी शहर के लिए दस हजार रूपए, बी श्रेणी शहर के लिए सात हजार रूपए, सी श्रेणी शहर के लिए पांच हजार रूपए तक राशि देय होगी।

छत्तीसगढ़ से मेडिकल और इंजीनियरिंग की प्रतियोगिता परीक्षाओं, यूपीएससी, पीएससी आदि की तैयारी करने वाले दिव्यांग बच्चों के लिए कई योजनाएं ला रही है। इसी में एक है किराए पर घर लेकर दिव्यांग बच्चों को पढ़ाना। इसे छात्रगृह योजना नाम दिया गया है। दिव्यांग बच्चों के लिए छात्रावासों में भी कोटा फिक्स करने की तैयारी की जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिव्यांगों के लिए 1995 में बना पुराना एक्ट बदल दिया है। अब लागू हो रहे नए नियमों में दिव्यांगों को कई सहूलियतें देने की तैयारी की जा रही है।

सामान्य छात्रवासों में दिव्यांग बच्चों के लिए कोटा फिक्स किया जाएगा। इसके बाद भी अगर हास्टल में कमरा नहीं मिलता तो सरकार अपने पैसे से किराए का घर देकर उनकी पढ़ाई में मदद करेगी। चूंकि दिल्ली में कमरे का किराए काफी ज्यादा होता है इसलिए अगर कुछ दिव्यांग मिलकर रूम शेयर करेंगे तो सरकार 10 हजार रुपए महीने तक की मदद देगी।

छत्तीसगढ़ दिव्यांग छात्रों छात्रगृह योजना

छत्तीसगढ़ सरकार क्षितिज अपार संभावनाएं कार्यक्रम चला रही है। इस योजना में सिविल सेवा की तैयारी कर रहे दिव्यांग बच्चों को प्रारंभिक परीक्षा पास करने पर 20 हजार, मुख्य परीक्षा पास करने पर 30 हजार और छत्तीसगढ़ सिविल सेवा में चयनित होने पर 50 हजार का पुरस्कार दिया जाता है। बीए, बीकाम आदि कार्स कर रहे दिव्यांग छात्रों को किताबें भी मुफ्त दी जाती हैं।

छत्तीसगढ़ सरकार ने दिव्यांग छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के लिए नगद पुरस्कार योजना शुरू की है। इस योजना में 10 वीं व 12 वीं के दिव्यांग बच्चों की मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। 10 वीं के टापर के 2 हजार और 12 वीं के टॉपर को 5 हजार का पुरस्कार दिया जाता है। बीए, एमए और आगे की परीक्षाओं में टापर्स को 6 हजार से 12 हजार तक नगद पुरस्कार दिया जाता है।

दोस्तों किस छत्तीसगढ़ दिव्यांग छात्रों छात्रगृह योजना प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

6 Replies to “छत्तीसगढ़ दिव्यांग छात्रों छात्रगृह योजना|”

  1. nike air max says:

    I just wanted to make a brief remark to appreciate you for those fantastic hints you are placing here. My prolonged internet search has finally been paid with sensible tips to share with my good friends. I would express that most of us website visitors are extremely lucky to dwell in a decent website with so many awesome individuals with useful points. I feel very blessed to have used your webpages and look forward to really more brilliant times reading here. Thank you once again for everything.

  2. very nice submit, i actually love this website, keep on it

  3. prremanand arya says:

    दिव्यांग योजना के अंर्तगत नये 21 श्रेणी का हिंदी मे नाम और विकलांगता प्रमाणपत्र कैसे प्राप्त करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

scroll to top