बिहार भूलेख नक्शा खसरा खतौनी जमाबंदी ऑनलाइन

Bihar सरकारी योजनाएं 2020

बिहार भू अभिलेख |जमाबंदी| खतियान| खसराखतौनी |Bihar land Record jamabandi Kasara khata online in hindi जमाबंदी बिहार|खेसरा संख्या bihar|खतियान की जानकारी bihar|भूमि जानकारी इन बिहार|राजस्व भूमि सुधार विभाग बिहार|बिहार भूलेख नक्शा|भूलेख बिहार स्टेट|

 बिहार के प्यारे देशवासियों बिहार की सरकार की तरफ से भूमि सुधार विभाग भूलेख उनकी सुरक्षा के लिए अनूठी पहल की गई है इस पहल के दौरान बिहार के भू-अभिलेखों, जमाबंदी, खतियान, खसरा खतौनी अब आप घर बैठे ऑनलाइन देख सकते हैं|भूलेख शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है  भू+लेख – भू का अर्थ भूमि से है और लेख का अर्थ लेखन या कागजी लिखवाई से है। अर्थात् भूमि से सम्बन्धित लिखित रूप में जानकारी।आमतौर पर यह रिकॉर्ड राज्य सरकार के राजस्व भूमि सुधार विभाग भूमि संसाधन विभाग के पास सुरक्षित होते थे

लेकिन इस  योजना के तहत लोग अपनी जमाबंदी ऑनलाइन देख सकते हैं जैसे कि अपनी भूमि या खेत की जमाबंदी की नकल खसरा नंबर का नक्शा अभी अब आपको इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन देख सकते हैं|भूलेख का सही अर्थ है भूमि से संबंधित लिखित रूप में जानकारी| भूलेख की अलग-अलग जगह में कई नामों से बात होती है |जैसे की जमाबंदी , भूमि अभिलेख , भूमि का ब्यौरा,खेत के कागजात  खेत का नक्शा ,खाता ,इत्यादि नामों से पुकारते हैं|भूलेख का सारा ब्यौरा आपको पटवारी के पास मिल सकता है|

बिहार भूलेख ऑनलाइन खतौनी नकल

राज्य की सरकार ने आप लोगों के “भूलेख नकल या अपना खाता ऑनलाइन पोर्टल” (Bhulekh Nakal Ya Khata Online Portal) शुरू किया हैं। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के सभी नागरिक अपनी भूलेख नकल, जमाबंदी, भू – अभिलेखों, खसरा खतौनी एवं खतियान के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हो।मि संबंधित रिकॉर्ड आमतौर पर राज्य सरकार के राजस्व भूमि सुधार विभाग या भूमि संसाधन विभाग (State Government Revenue Department of Land Reforms or Land Resources) के पास सुरक्षित रहते हैं। “भूलेख नकल” (Bhulekh Nakal) का सारा विवरण राज्य के लोगों को पटवारी के पास मिल सकता हैं।

लेकिन अब इस योजना के तहत बिहार के लोग अपनी भूमि या खेत जमाबंदी की नकल, खसरा नंबर, भूमि का नक्शा ये सब आपको ऑनलाइन इंटरनेट (Online Internet) के माध्यम से दिख सकते हैं।अब आप ऑनलाइन ही भूलेख बिहार, खसरा खतौनी व भूमि से जुड़े रिकार्ड ऑनलाइन देख सकते है आप भूलेख नक्शा जमाबंदी नक़ल ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते है। इस जानकारी के माध्यम से भूमि के मालिकाना हक़, क्षेत्रफल, तहसील, गांव व पट्टे की जानकारी प्राप्त कर सकते है।

बिहार जमाबंदी खसरा खतौनी के लाभ

  • आप घर बैठे अपने भूमि की जानकारी ऑनलाइन देख सकते हैं|
  •  इस  योजना से लोगों पटवार खाने को जाना नहीं पड़ेगा|
  • बिहार  से आप अपना खसरा नंबर या जमाबंदी नंबर डालकर अपना नक्शा पता कर सकते हैं|
  • इस जमाबंदी योजना से आप रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपकी समय की बचत होगी|

बिहार भू अभिलेख खसरा  खतौनी ऑनलाइन आवेदन

  • बिहार भू अभिलेखजमाबंदी खतियान खसराखतौनी ऑनलाइन  यहां पर दिए गए वेबसाइट पर क्लिक करें
    भूलेख खसरा खतौनीआधिकारिक वेबसाइट {अपना खाता देखे} पोर्टल पर आपको अपने जिले का चयन करना होगा। इसके बाद एक नया पेज खुल जायेगा।
    भूलेख खसरा खतौनी
    अगले पेज पर आपको अपने कस्बे {ब्लाक} का चयन करना होगा।
    भूलेख खसरा खतौनीअब एक और नया पेज खुल जायेगा यहाँ आप कुछ विकल्पों के द्वारा “अपना खाता” देख सकते है।
    भूलेख खसरा खतौनीआप दिए गए विकल्पों का अपनी सुविधा के अनुसार चयन कर आसानी से खाता संख्या और खसरा संख्या की अनुसार अपना खाता देख सकते है।

    Bihar Jamabandi Nakal | भू-नक्शा ऑनलाइन देखे

    ऑनलाइन दाखिल खारिज, भू नक्शा बिहार, जमाबंदी नक़ल देखने के लिए आपको सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट http://bhunaksha.bih.nic.in/bhunaksha/ पर जाना होगा।

    भूलेख खसरा खतौनीवेबसाइट के होमपेज पर आपको अपने जिले, उप जिले, सर्किल तथा मोज़े का चयन करना होगा।
    भूलेख खसरा खतौनी उपरोक्त चयन करने के बाद आप खसरा नंबर, रैयत का नाम, पिता के नाम की जानकारी के साथ भू नक्शा की जानकारी प्राप्त कर सकते है।
    भूलेख खसरा खतौनी

 

प्यारे दोस्तों आपको हमारी  ऑनलाइन बिहार  खसरा खतौनी जमाबंदी नकल जानकारी कैसी लगी |कृपया कमेंट करके बताएं| यदि आपको इससे संबंधित कोई भी प्रश्न पूछना है तो आप कमेंट कर पूछ सकते हैं|

110 thoughts on “बिहार भूलेख नक्शा खसरा खतौनी जमाबंदी ऑनलाइन

  1. I am still not being able to download the Jamabandi online kin spite of knowing the Jamabandi Number. This is about Bihar. tried a lot. But couldn’t suceed. After clicking in the site on the District and then on the Circle, the DropDown Menu of the Halka and Mauja are not functioning at all and, as a result, I am not being able to insert the name of the Halka and the Mauja in spite of knowing these names. I am ultimately not being able to download the Jamabandi. I shall be grateful if you kindly arrange to look into the matter and solve the problem ultimately.

  2. Dear sir i willcomplete fourteen days quaratine your scheme to give ration so I request you my joint family to add only four name on my list humble request you

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *