बाल सेवा योजना

उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना”Up बाल सेवा योजना”Mukhyamantri Bal Sewa Yojana”मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना”up Bal Sewa Yojana”

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में बाल सेवा योजना की जानकारी लेकर आए हैं| हम आपको बताएंगे कि उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना क्या है| आप किस प्रकार मुख्यमंत्री सेवा बाल योजना का लाभ उठा सकते हैं|Mukhyamantri Bal Sewa Yojana. कोरोना (Corona Virus) से माता पिता को खोने वाले बच्चों की देखभाल के लिए राज्य की योगी सरकार ने ‘उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना’ की शुरुआत की है।

मुख्यमंत्री ने ‘उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना’ की शुरुआत की है। इसके तहत ऐसे बच्चे जिन्होंने कोरोना काल में अपने माता पिता को खो दिया, उनके गार्जियन/केयरटेकर चार हजार रुपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी। ऐसे बच्चों को मुफ्त शिक्षा और इलाज की सुविधा मिलेगी। वहीं, 10 साल से कम आयु के ऐसे बच्चे जिनका कोई रिश्तेदार नहीं है, ऐसे सभी बच्चों को प्रदेश सरकार द्वारा भारत सरकार की सहायता से और अपने संसाधनों से संचालित राजकीय बाल गृह (शिशु) में देखरेख के लिए रखा जाएगा। उच्च शिक्षा के लिए ब्याज मुक्त लोन भी मिलेगा।

Bal Seva Yojana

इस योजना के तहत बच्चे के वयस्क होने तक उनके अभिभावक अथवा देखभाल करने वाले को 4,000 रुपये प्रति माह की वित्तीय सहायता प्रदान की जायेगी। दस वर्ष की आयु से कम उम्र के ऐसे बच्चे जिनका कोई अभिभावक अथवा परिवार नहीं है, ऐसे सभी बच्चों को प्रदेश सरकार द्वारा भारत सरकार की सहायता से अथवा अपने संसाधनों से संचालित राजकीय बाल गृह (शिशु) में देखभाल की जाएगी। बता दें कि मथुरा, लखनऊ, प्रयागराज, आगरा एवं रामपुर में राजकीय बाल गृह (शिशु) संचालित हैं।

Mukhyamantri Bal Sewa Yojana

योजना का नाम            उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना
शुरू की गई योजना       मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
योजना की घोषणा          29 मई 2021
सहायता राशि                4000 रुपए प्रतिमाह

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना 2021 उद्देश्य

Uttar Pradesh Bal Seva Yojana को शुरू करने का एकमात्र मुख्य उद्देश्य जिन बच्चों ने अपने माता पिता अथवा कानूनी अभिभावक को COVID-19 महामारी मैं खोया है उन बच्चों को आर्थिक सहायता देने के लिए इस योजना की शुरुआत राज्य सरकार द्वारा की गई है. सरकार का उद्देश्य राज्य के इन बच्चों को विभिन्न तरह की सुविधाएं प्रधान करके उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है सरकार को दृश्य अधिक से अधिक बच्चों को लाभ प्रदान करना है. राज्य के बच्चों को किसी भी तरह की मुसीबत का सामना न करना पड़े बस इसलिए गुरु शिष्य योजना की शुरुआत की गई है|

UP Bal Seva Yojana विशेषताएं

  • कोविड-19 महामारी में अनाथ हुए बच्चों की पढ़ाई, विवाह का खर्च राज्य सरकार उठाएगी|
  • ऑनलाइन पढ़ाई के लिए इन बच्चों को लैपटॉप और टेबलेट भी वितरित किए जाएंगे|
  • हर महीने ऐसे बच्चों की परवरिश के लिए राज्य सरकार द्वारा 4000 रुपए प्रदान किए जाएंगे|
  • जिनकी उम्र 10 साल से कम है उनके गार्जियन नहीं है उन्हें राज्य के बाल संरक्षण गृह में रखा जाएगा|
  • अनाथ बालिकाओं की शादी हेतु सरकार द्वारा 1.10 लाखों रुपए प्रदान किए जाएंगे|
  • उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत स्कूल अथवा कॉलेज में पढ़ रहे अथवा व्यवसायिक शिक्षा ग्रहण करने वाले ऐसे बच्चों को विभिन्न तरह की सुविधाएं दी जाएंगी|
  • करोना संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों की देखभाल के लिए उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना लागू की गई है|

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना पात्रता

  • उम्मीदवार उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए|
  • उम्मीदवार के माता-पिता या अन्य किसी अभिभावक की मृत्यु COVID-19 महामारी से हुई है योजना के लिए पात्र है|
  • सरकार द्वारा विभिन्न तरह की सुविधाएं बाल सेवा योजना के तहत प्रदान की जाएंगी|
  • आवश्यक दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मृत्यु की स्थिति में मृत्यु प्रमाण पत्र

UP Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021 के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • उत्तर प्रदेश के निवासी होने का घोषणा पत्र
  • बच्चे का आयु प्रमाण पत्र
  • 2019 से मृत्यु का साक्ष्य
  • बच्चे एवं अभिभावक की नवीनतम फोटो सहित पूर्व आवेदन
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र (यदि माता-पिता दोनों की मृत्यु हो जाती है तो उस स्थिति में आय प्रमाण पत्र जमा करना जरूरी नहीं है।)
  • शिक्षण संस्थान में रजिस्ट्रेशन का प्रमाण पत्र

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

  • यदि आप ग्रामीण क्षेत्र में रहते हैं तो आपको ग्राम विकास/पंचायत अधिकारी या विकासखंड या जिला प्रोबेशन अधिकारी कार्यालय में जाना होगा और यदि आप शहरी क्षेत्र में रहता है कि आपको लेखपाल, तहसील या जिला प्रोबेशन अधिकारी के कार्यालय में जाना होगा।
  • आपको कार्यालय से इस योजना का आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • अब आपको आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • अब आपको यह आवेदन पत्र कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इस प्रकार आप यूपी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।
  • जिला बाल संरक्षण इकाई एवं बाल कल्याण समिति द्वारा पात्र बच्चों को चिन्हित करने के बाद 15 दिन के अंदर आने आवेदन प्रक्रिया पूरी कर दी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत माता पिता की मृत्यु के 2 वर्ष के भीतर आवेदन किया जा सकता है।
  • अप्रूवल प्राप्त होने की तिथि से ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप लोग Uttar Pradesh Bal Seva Yojana Apply करना चाहते हैं ,तो अभी आपको कुछ समय इंतजार करना होगा। क्योंकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अभी योजना की घोषणा की है। जैसे ही राज्य सरकार अधिकारिक वेबसाइट लॉन्च करेगी। हम आपको अपनी वेबसाइट पर अपडेट कर देंगे। अगर आप लोग ऑफलाइन मोड के माध्यम से आवेदन करना चाहते हैं , तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मोबाइल नंबर

 यूपी रोजगार मिशन योजना

FAQ आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न?

उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना क्या है?

COVID-19 महामारी के कारण अनाथ हुए बच्चों को विभिन्न तरह की योजनाओं का लाभ देने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है|

बाहरी राज्यों के नागरिक योजना के लिए पात्र हैं क्या?

नहीं, योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश राज्य के स्थाई नागरिकों को दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *