Atmanirbhar Bharat Rozgar Yojana|आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

pradhan mantri yojana

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना|आत्मनिर्भर रोजगार योजना|atmanirbhar bharat rozgar yojana|atmanirbhar rozgar yojana

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की जानकारी देने जा रही हैं| हम आपको बताएंगे कि आत्मनिर्भर रोजगार योजना क्या है| आप किस प्रकार आत्मनिर्भर रोजगार योजना 2020-21 का लाभ उठा सकते हैं|वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोविड संक्रमण काल से उबर रहे भारत में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए  को नई योजना की शुरुआत की| इसे आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना नाम दिया गया है|

उन्होंने खरीदारों और बिल्डरों के लिए आयकर में लाभ का भी ऐलान किया गया. निर्यातकों को बढ़ावा देने के लिए 3 हजार करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की गई. हेल्थकेयर समेत 26 संकटग्रस्त सेक्टरों भी ज्यादा कर्ज ले सकेंगे| छोटे उद्योगों को मूलधन पर एक साल के लिए कर्ज न चुकाने की छूट भी मिलेगी|सीतारमण ने कहा कि एक लंबे और कड़े लॉकडाउन के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था की हालत में जोरदार सुधार देखने को मिल रहा है| जीएसटीसंग्रह 10 प्रतिशत बढ़कर 1.05 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो गया| सरकार ने घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के इरादे से 10 और क्षेत्रों के लिये दो लाख करोड़ रुपये की उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजनाओं को मंजूरी दी है|

Key Highlights Of Atmanirbhar Bharat Rozgar Yojana

योजना का नाम आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य देश की आर्थिक स्थिति में सुधार करना
साल 2020

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के लाभ

  • आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना (Atmanirbhar Bharat Rozgar Yojana) की शुरुआत एक अक्टूबर 2020 से मानी जाएगी|
  • इसके तहत कोरोना काल में नौकरी गंवाने वाले लोगों की मदद की जाएगी|
  • साथ ही कोरोना संक्रमण से उबरने के मौजूदा दौर में नौकरी देने वाले संस्थानों को भी प्रोत्साहन मिलेगा|
  •  इस योजना के अंतर्गत वह सभी संस्थाएं जिसमें 1000 से कम कर्मचारी हैं कर्मचारी के हिस्से का 12% तथा नौकरी देने वाले का भी 12% कुल मिलाकर 24% केंद्र सरकार योगदान देगी। जिस संस्था में 1000 से ज्यादा कर्मचारी हैं वहां केंद्र सरकार कर्मचारियों के हिस्से का 12% योगदान देगी।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2020-21 के लिए पात्रता

  •  ईपीएफओ के तहत पंजीकृत किसी भी प्रतिष्ठान में नौकरी पाने वाले और 15,000 से कम मेहनताना वाले व्यक्ति को इस योजना का लाभ मिलेगा|
  • कोविड काल में एक मार्च 2020 से 30 सितंबर के बीच नौकरी गंवाने वाले और एक अक्टूबर या उसके बाद नौकरी पाने वाले कर्मी इसके पात्र होंगे|
  • जिन प्रतिष्ठानों की कर्मचारी सीमा 50 से कम हैं, उन्हें कम से कम दो लोगों औऱ जिनकी सीमा 50 से ऊपर है, उन्हें न्यूनतम 5 लोगों को रोजगार देना होगा, तभी वे इस योजना के पात्र होंगे|
  • इसके तहत ईपीएफओ के तहत पंजीकृत संस्थानों को सब्सिडी दी जाएगी. स्कीम 30 जून 2021 तक लागू रहेगी|

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 3.0 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • अभी सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की केवल घोषणा की गई है।
  • अभी इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की कोई भी प्रक्रिया सरकार द्वारा निर्धारित नहीं की गई है।
  • जैसे ही आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 में आवेदन करने की प्रक्रिया सरकार द्वारा सक्रिय करी जाएगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे।

Aatm Nirbhar Bharat Yojana

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *