आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना” यूपी आत्‍मनिर्भर कृषि समन्वित विकास योजना”उत्तर प्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना”

उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने सोमवार को विधानसभा में 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश क‍िया है। वह सदन में अपना बजट भाषण दे रहे हैं। बजट में सरकार ने किसानों का खास ध्यान रखा है। ‘आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना’ की शुरुआत की है|इसी क्रम में वित्तीय वर्ष 2021-22 से आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना (Aatmanirbhar krishi samanvay vikas yojna) चलाई जाएगी| इस योजना के लिए सरकार ने 100 करोड़ रुपये का बजट दिया है| किसानों को रियायती दरों पर खेती के लिए लोन (loans for farming) उपलब्ध कराने को सरकार ने सब्सीडी के लिए 400 करोड़ रुपये दिए हैं|

अन्नदाता की आमदनी 2022 तक दोगुनी करने का सपना साकार करना आसान नहीं होगा। लेकिन, हाल के वर्षों में कृषि सुधारों की दिशा में कई पहलें की गई हैं, जो अन्नदाताओं की आय में बढ़ोतरी और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने की सरकार की मंशा को मजबूती से व्यक्त करती हैं|सुधारों के इस ताजा पैकेज में तीन कानून शामिल हैं। पहले कानून के अंतर्गत खाद्य-उत्पादों पर लागू संग्रहण की बाध्यताओं को हटाने के लिए आवश्यक वस्तु अधिनियम कानून में संशोधन किया गया है। दूसरे, कृषि उपज, वाणिज्य और व्यापार (संवर्धन एवं सुविधा) कानून के तहत हर किसी को कृषि-उत्पाद खरीदने-बेचने की अनुमति दी गई है। तीसरा कानून है मूल्य आश्वासन एवं कृषि सेवा समझौता अध्यादेश तथा आवश्यक वस्तु (संशोधन)। इसके जरिये अनुबंध आधारित खेती को वैधानिकता प्रदान की गई है ताकि बड़े कारोबारी और कंपनियां अनुबंध के जरिये खेती-बाड़ी के विशाल भू-भाग पर ठेका आधारित खेती कर सकें।

Aatmanirbhar krishi samanvay vikas yojana 

योजना का नामआत्‍मनिर्भर कृषि समन्वित विकास योजना
किस ने लांच कीयूपी सरकार
लाभार्थीयूपी के नागरिक
उद्देश्यखेती के लिए लोन।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2021

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना

दोस्तों जैसा की आप सब जानते हैं की उत्तरप्रदेश सरकार राज्य के किसानों को लाभ प्रदान करने हेतु हर वर्ष नई-नई योजनाओं की शुरुआत करती है, राज्य के कृषि क्षेत्र में बढ़ावा देने हेतु Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत सरकार द्वारा 100 करोड़ रूपये की धनराशि प्रदान करने का प्रस्तावन दिया गया है, इससे राज्य में शुरू होने वाली योजना के माध्यम से आवेदक किसानों की आय को दोगुना किया जा सकेगा, साथ ही सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं में क्रियाव्यन गैप को भी ख़त्म किया जा सकेगा और राज्य में जारी योजनाओं में और तेजी लाई जा सकेगी। राज्य में योजना के माध्यम से अधिक उत्पादक वाली फसलों को बढ़ावा मिलेगा और नई तकनीकों द्वारा कार्य में वृद्धि हो सकेगी।

यूपी सरकार द्वारा जारी 2021 बजट

उत्तरप्रदेश सरकार सरकार द्वारा 22 फरवरी 2021 को सदन में यूपी के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना द्वारा वर्ष का सबसे बड़ा बजट पेश किया गया है, उत्तरप्रदेश सरकार का यह पाँचवा बजट है, जिसके अंतर्गत सरकार द्वारा पहली बार 5,50,270.78 लाख करोड़ रूपये का बजट पेपरलेस पेश किया गया है, जिसमे जारी योजनाओ की घोषणा सरकार ने नागरिकों को लाभ प्रदान करने हेतु अपने आर्थिक बजट में कृषि से सम्बंधित एवं अन्य योजनाओं में जारी बजट पेश किया है।

कृषि क्षेत्र हेतु जारी बजट :-

सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देने हेतु कृषि से सम्बंधित बहुत सी नई योजनाओं को आरम्भ करने हेतु बजट पेश किया गया है, जिनका लाभ सरकार राज्य के किसानो को जारी बजट द्वारा प्रदान करेगी।

  • आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत राज्य के किसानो की आमदनी में बढ़ोतरी करने हेतु सरकार द्वारा योजना के लिए 100 करोड़ रूपये के बजट का प्रावधान किया है।
  • मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना : इस योजना के अंतर्गत राज्य किसानों की आकस्मिक दुर्घटना में मृत्यु हो जाने के कारण उनके आश्रित परिवार को मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में सहयोग प्रदान करने हेतु योजना में 600 करोड़ रुपए का बजट पेश किया गया है, इसके तहत योजना में आवेदन करने वाले किसान के परिवार को 5 लाख रूपये तक का आर्थिक सहयोग प्रदान किया जाएगा।
  • खेती के लिए श्रण लेने हेतु योजना में 400 करोड़ रूपये का बजट प्रदान किया गया है।
  • उत्तरप्रदेश के नागरिकों को फ्री जल सुविधा प्रदान करने हेतु सरकार द्वारा बजट में 700 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है।

अन्य योजनों के लिए जारी बजट :-

  • महिला सामर्थ्य योजना की शुरुआत हेतु सरकार ने राज्य की महिलाओं को शसक्त बनवाने हेतु योजना के अंतर्गत 200 करोड़ रूपये धनराशि के बजट का प्रावधान किया है।
  • मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना :- इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 100 करोड़ रूपये के बजट को पेश किया गया है।इस योजना के अंतर्गत सरकार राज्य के 6 महीने से 5 वर्ष के छोटे बच्चों एवं 11 से 14 तक की बालिकाओं को भरण पोषण हेतु योजना के माध्यम से सुविधा प्रदान करेगी।
  • मुख्यमंत्री समग्र सम्पदा विकास योजना : सरकार द्वारा राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के विकास हेतु सरकार ने योजना का आरम्भ करने हेतु 1000 करोड़ रूपये का बजट पेश किया है।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना

योजना का नामउत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना
जारी करने की घोषणा की गईउत्तरप्रदेश सरकार द्वारा
साल2021
योजना के लाभार्थीराज्य के किसान
उद्देश्यकिसानों में आय में बढ़ोतरी करना
आवेदन प्रक्रियाजल्द ही जारी की जाएगी

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना उद्देश्य

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य योजना के माध्यम से राज्य के किसानो को आर्थिक सहयोग प्रदान करना है, जिससे राज्य के किसानों को खेती में प्रोत्साहन मिल सकेगा और उनकी स्थिति को बेहतर बनाया जा सकेगा, योजना के अंतर्गत किसानों की आमदनी में बढ़ोतरी हो सकेगी साथ ही खेती में जयादा से ज्यादा किसानों को लाभ प्राप्त हो सकेगा और उनकी आर्थिक ससम्याओं को भी कम किया जा सकेगा, इसके लिए सरकार आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के माध्यम से राज्य के सभी किसानो की आय को वर्ष 2022 तक दुगनी करने हेतु राज्य के किसानो को योजना का लाभ प्रदान कर रही है।

यूपी आत्‍मनिर्भर कृषि समन्वित विकास योजना के लाभ

  • रबी और खरीफ फसलों के समर्थन मूल्य में हुई वृद्धि
  • कोरोना काल में घोषित 20 लाख करोड़ के पैकेज से किसानों के सशक्तिकरण के आसार 
  • जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए शुरू हुए प्रयास, फसल की किस्मों और पशुधन प्रजातियों पर विशेष ध्यान
  • किसानों की आमदनी बढ़ाने संबंधी अनेक योजनाएं क्रियान्वित हुईं
  • किसान रेल से आयेगी जल्द खराब होने वाली चीजों की ढुलाई में तेजी

उत्तर प्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना

इस बात पर जोर दिया कि कृषि में उद्यमिता विकास आत्मनिर्भर भारत का मार्ग प्रशस्त करेगा। उन्होंने कौशल विकास और आर्य को भारत सरकार की प्रमुख योजनाओं के रूप में माना, जो ग्रामीण युवाओं को उद्यमी बना सकते हैं।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना पात्रता

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत आवेदन हेतु आवेदक इसकी पात्रता से जुडी जानकारी यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं।

  • आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना उत्तरप्रदेश के अंतर्गत आवेदन करने वाले किसान यूपी के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • इस योजना का लाभ केवल राज्य के किसानो को ही प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना के अंतर्गत आवेदक किसान के पास कृषि भूमि होनी आवश्यक है।
  • योजना के अंतर्गत आवेदक किसानों के पास योजना के आवेदन हेतु सभी आवश्यक दस्तावेज होना आवश्यक है।
  • आवेदनकर्ता का बैंक में खाता होना अनिवार्य है।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के आवेदन हेतु अन्य राज्य के किसान आवेदन हेतु पात्र नही होंगे।

आवेदन हेतु दस्तावेज

योजना के जारी होते आवेदन हेतु आवेदक के पास योजना से जुड़े सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, जिनके बिना आवेदन प्रक्रिया पूरी नहीं, इसके लिए दस्तावेजों आवेदक यहाँ से प्राप्त हैं।

योजना के आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज :-

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • कृषि भूमि दस्तावेज
  • बैंक की पासबुक
  • मोबाइल नंबर

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना की आवेदन प्रक्रिया

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत राज्य के जों भी किसान योजना के लाभ हेतु आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा क्योंकि अभी सरकार द्वारा केवल Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana को जारी करने की केवल घोषणा ही की गई है और अभी इसके आवेदन हेतु कोई वेबसाइट/पोर्टल जारी नहीं किया गया है, इस योजना को जारी होने में थोड़ा समय लगेगा, परन्तु जैसे ही आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को जारी करने से से सम्बंधित कोई भी आधिकारिक सूचना सरकार की तरफ से जारी की जाती है, उसकी जानकारी हम आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान कर देंगे, इसके लिए आप हमसे जुड़े रह सकते हैं।

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना जुड़े प्रश्न/उत्तर

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को हेतु सरकार द्वारा कितना बजट पेश किया गया है ?

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के आरम्भ हेतु सरकार द्वारा 100 करोड़ रूपये का बजट पेश किया गया है।

उत्तरप्रदेश आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना क्या है ?

Uttar Pradesh Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा राज्य के किसानों की आमदनी को दुगनी या बढ़ोतरी करने हेतु जारी की जाएगी, योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा किसानो को आर्थिक सहयोग प्रदान करने के लिए योजना के आरम्भ हेतु जारी बजट द्वारा राज्य के आवेदक किसानों की आय में बढ़ोतरी करेगी, साथ योजना के माध्यम से सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं में क्रियाव्यन गैप को ख़त्म किया जा सकेगा साथ ही किसानों को समृद्ध बनाने हेतु नई तकनीक, निवेश प्रोत्साहन, तथा बेहतर मार्केटिंग अदि बहुत से लाभ इस योजना के माध्यम मिल सकेंगे।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन हेतु आवेदक के पास कौन-कौन से जरुरी दस्तावेज होना आवश्यक है ?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन हेतु आवेदक के पास आधारकार्ड, पहचान प्रमाण पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र
कृषि भूमि दस्तावेज, बैंक की पासबुक, मोबाइल नंबर अदि दस्तावेज होने आवश्यक है।

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana UP की आवेदन प्रक्रिया कब से जारी की जाएगी ?

सरकार द्वारा Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana UP को जारी करने की अभी केवल घोषणा ही की गई है, अभी इसके आवेदन हेतु कोई आधिकारिक वेबसाइट जारी नहीं की गई है, जैसे ही सरकार योजना को जारी करने या इसकी आवेदन प्रक्रिया से सम्बंधित कोई सूचना जारी करती है, तो इसकी जानकारी हम आपको लेख के माध्यम से देंगे।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के आरम्भ हेतु सरकार द्वारा कितना बजट पेश किया गया है ?

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के आरम्भ हेतु सरकार द्वारा 600 करोड़ का बजट पेश किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *