यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन| uttar pradesh How To Register A Birth OR Death In Hindi

uttar pradesh

यूपी जन्म| मृत्यु |प्रमाण पत्र |ऑनलाइन आवेदन|उत्तर प्रदेश जन्म, मृत्यु  प्रमाणपत्र |अब घर बैठे लें जन्म ,मृत्यु  प्रमाणपत्र|

नमस्कार दोस्तों हमारे लिए एक जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र का होना बहुत ही जरुरी है जिसके बारे में हमने पिछली पोस्ट में अच्छे से बताया है.   जन्म व मृत्यु  प्रमाण पत्र कैसे कराये ?  नही पढ़ा है तो उसे जरुर पढ़े जिसमे आपको जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी और आप जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के बारे में सभी सवालों के जबाब भी जान पाओगे. दोस्तों जैसा की आप जानते है की आज इन्टरनेट का जमाना है इस लिए हमें इन्टरनेट से होने वाले काम की पूरी जानकारी होना जरुरी है|

. आज इस पोस्ट में हम जानेगे की ऑनलाइन जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र कैसे करे |नगर निगम में मैनुअल बनने वाले जन्म और मृत्यु प्रमाण का ‘खेल’ अब एक मार्च से पूरी तरह खत्म हो जाएगा। अब पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन ही होगी, कोई भी मैनुअल प्रमाण पत्र नहीं जारी किया जा सकेगा। डिजिटल सिग्नेचर के जरिए ऑनलाइन की प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश शासन ने जारी कर दिए हैं। नगर विकास सचिव ने इस संबंध में स्पष्ट आदेश दिए हैं। इसके साथ डुल्लीकेट प्रति भी प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन ही आवेदन करना होगा|

यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र

मृत्यु प्रमाण पत्र प्रक्रिया का निरीक्षण के बाद टीम में शामिल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ मैनेजमेंट रिसर्च के प्रोफेसर डॉ। दया कृष्ण मंगल ने बताया कि विजन 2020 के अंतर्गत तीनों शहरों में लागू व्यवस्था का अध्ययन करने के बाद सुझाव देंगे। जिससे पंजीकरण प्रक्रिया में तेजी आए। बताया कि यहां सबसे समस्या जागरुकता का अभाव है। लोगों का पंजीकरण की सेवाएं सर्वसुलभ हो, ऑन लाइन प्रक्रिया का सरलतम उपयोग हो। इससे अधिक से अधिक लोग जन्म- मृत्यु का प्रमाण पत्र कराने में दिलचस्पी दिखाएंगे।

जन्म और मृत्यु के रजिस्ट्रेशन के लिए पब्लिक अभी भी जागरूक नहीं है। जिसके चलते जन्म दर और मृत्यु दर की सही आंकड़े सरकार को नहीं उपलब्ध हो पा रहे है। नगर निकायों में ऑफ लाइन ही प्रमाण पत्र जारी किए जा रहे हैं। पंजीयन को लेकर जागरुकता न होने से लोगों की इस संबंध में कोई दिलचस्पी नहीं है। इस पर भारत के महारजिस्ट्रार ने निर्णय लिया है कि विजन- 2020 के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में शत प्रतिशत प्रमाण पत्र सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए भारत सरकार के माध्यम से उच्च स्तरीय टीम का गठन किया गया है। इस टीम में भारत सरकार के अधिकारियों के साथ स्वास्थ्य महानिदेशालय व जनगणना कार्य निदेशालय तथा यूनिसेफ के अधिकारी शामिल है|

यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र के लाभ

  इसके पीछे मुख्य मकसद लोगों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने से बचना है।नगर विकास विभाग में हुई बैठक के मुताबिक जैसे फार्म व प्रमाण पत्र शुल्क किस शुल्क किस तरह से लिया जाएगा, शुल्क लिया जाए या ना लिया जाए, देरी होने पर शपथ पत्र किस तरह से मांगा जाएगा और प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज आवेदक से कैसे प्राप्त किए जाएंगे।

 ऐसे में जब ऑनलाइन व्यवस्था शुरू हो जाएगी तो प्रमाण पत्र और फार्म शुल्क समाप्त किया जा सकता है। जिसके बाद आवेदक को जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए कोई शुल्क अदा नहीं करना पड़ेगा।यह है व्यवस्था– जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए 21 दिन के अंदर कोई शुल्क नहीं है।- 21 से 30 दिन के अंदर इसे बनवाने पर अभी 2 रुपये शुल्क देना होता है।- एक माह से एक साल के अंदर बनवाने के लिए प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट से आदेश कराना होता है।

यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन इस वेबसाइट पर क्लिक करें 

दोस्तों आपको यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन योजना किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

26 thoughts on “यूपी जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन| uttar pradesh How To Register A Birth OR Death In Hindi

  1. इस समय मृत प्रमाण पत्र ऑनलाइन रोक क्यों लगा देगी

  2. जन्म म्रत्यु प्रमाण -पत्र बनना बंद हे कब तक रोक लगी रहेगी जानकारी दे ।

    1. जन्म म्रत्यु प्रमाण पत्र e district एव citizan सेवा से नही बन रहे जन्म म्रत्यु प्रमाण
      पत्र कब से बनना सुरू होगे जानकारी दे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *