अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना| संपूर्ण जानकारी

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना| संपूर्ण जानकारी

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना|अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना 2019|अटल बीमित व्यक्ति कल्याण स्कीम|Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana|Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana in hindi|atal bimit vyakti kalyan yojana upsc|atal bimit vyakti kalyan yojana esic|atal bimit vyakti kalyan yojana claim creation|atal bimit vyakti kalyan yojna registration|atal bimit vyakti kalyan yojana apply online|atal bimit vyakti kalyan yojana the hindu|atal bimit vyakti kalyan yojna eligibility|

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल में अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना की जानकारी लेकर आए हैं| हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना 2019 का लाभ उठा सकते हैं| दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं भारत में बेरोजगारी एक बहुत बड़ी समस्या है| यह समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है| इसी समस्या से निपटने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अटल बीमित व्यक्ति कल्याण स्कीम की शुरुआत की है|

मोदी सरकार की अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत नौकरी जाने की स्थिति और नए रोजगार की तलाश के दौरान सीधे बैंक खाते में राहत राशि भेजी जाएगी|Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana के तहत नौकरी करने वाले लोगों के लिए योजना शुरू की गई है|अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना   नौकरी गवा देने पर की स्थिति में व्यक्ति को सहायता दी जाएगी यह मदद दूसरी रोजगार करने के दौरान मिलेगी|संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए मोदी सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। अब अगर आपकी नौकरी छूट जाती है तो सरकार आपको 24 महीने यानी 2 साल तक पैसे देगी।

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण स्कीम

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत बेरोजगारों के बैंक खाते में सीधे पैसा पहुंचेगा|पैसे तब तक मिलते रहेंगे जब तक उन्हें नई नौकरी नहीं मिल जाती|इसका लाभ कर्मचारी राज्य बीमा निगम( (ईएसआईसी) सुविधा वाले कर्मचारियों को ही मिलेगी| कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) ने बुधवार को इस नई योजना को मंजूरी दी, जिसके तहत बीमित व्यक्तियों के बेरोजगार होने पर नकद राहत मिलेगी| अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत बीमित व्यक्ति को नौकरी जाने की स्थिति में और नये रोजगार की तलाश के दौरान सीधे बैंक खाते में राहत राशि भेजी जाएगी|

प्राइवेट नौकरी करने वाले कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है|नौकरी से निकाले जाने या किसी अन्य वजह से नौकरी छूटने पर भी 3 महीने तक वेतन मिलता रहेगा, बशर्ते कर्मचारी ESIC यानि कर्मचारी राज्य बीमा निगम से जुड़ा हो।  ESIC ने एक नयी योजना को मंजूरी दी, जिसके तहत बीमित व्यक्तियों के बेरोजगार होने पर नकद राहत मिलेगी। 

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के लाभ

ईएसआई निगम ने कर्मचारियों को प्रति व्‍यक्ति दस रुपये की प्रतिपूर्ति के प्रस्‍ताव को भी मंजूरी दी है, जिससे कि उनके श्रमिकों एवं उनके परिवार के सदस्‍यों के ईएसआईसी डाटा बेस में आधार (यूआईडी) के जोड़े जाने को प्रोत्‍साहित किया जा सके| यह कदम एक ही बीमित व्‍यक्ति के विविध पंजीकरणों में कमी लाएगा तथा दीर्घकालिक अंशदायी स्थितियों के लिए आवश्‍यक लाभ उठाने में उन्‍हें सक्षम बनाएगा|

•   ईएसआई निगम ने सुपर स्‍पेशियलिटी उपचार का लाभ उठाने के लिए अर्हता स्थितियों में रियायत देने के प्रस्‍ताव को भी मंजूरी दी है, जिसमें पहले के दो वर्षों के बीमा योग्‍य रोजगार अवधि को घटाकर छह महीने कर दिया गया है और इसमें केवल 78 दिनों के अंशदान की आवश्‍यकता होगी|

•   बीमित व्‍यक्तियों के आश्रितों के लिए सुपर स्‍पेशियलिटी उपचार का लाभ उठाने की अर्हता में छूट देकर अब इसे एक वर्ष के बीमा योग्‍य रोजगार तक घटा दिया गया है, जिसमें 156 दिनों का अंशदान होगा. इस छूट से बीमित व्‍यक्तियों एवं उनके लाभार्थियों को संशोधित अर्हता के अनुसार नि:शुल्‍क सुपर स्‍पेशियलिटी उपचार प्राप्‍त करने का अवसर मिलेगा|

•   ईएसआई निगम ने बीमित व्‍यक्तियों की मृत्‍यु पर भुगतान किए जाने वाले अंत्‍येष्टि व्‍यय में बढ़ोतरी कर इसे वर्तमान 10,000 रुपये से बढ़ाकर 15,000 रुपये करने के प्रस्‍ताव को भी मंजूरी दे दी है|

किसे नहीं मिलेगा योजना का फायदा- ESIC से बीमित कोई भी ऐसा व्‍यक्ति जिसे किसी कारण से कंपनी से निकाल दिया जाता है या उस व्‍यक्ति पर किसी तरह का आपराधिक मुकदमा दर्ज होता है तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिलता है. इसके अलावा जो लोग ऐच्छिक रिटायरमेंट (VRS) लेते हैं तो उन्‍हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना कैसे करें आवेदन

अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना का लाभ उठाने के लिए आप ESIC की बेवसाइट पर जाकर फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं. इसे भरकर आपको ESIC के किसी ब्रांच में जमा करवाना होगा. इस फॉर्म के साथ 20 रुपये का नॉन-ज्‍यूडिशियल पेपर पर नोटरी से एफिडेविड करवाना होगा. इसमें AB-1 से लेकर AB-4 फॉर्म जमा करवाया जाएगा. ऑनलाइन सुविधा इसके लिए शुरू होने वाली है. ज्‍यादा जानकारी के लिए आप www.esic.nic.in वेबसाइट पर जा सकते हैं. ध्‍यान रखें इसका फायदा आप सिर्फ एक बार ही उठा सकते हैं.

प्यारे दोस्तों अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं हमारे कमेंट बॉक्स पर लिख दीजिए हम उसका उत्तर अवश्य देंगे आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं जिससे आप प्रधानमंत्री की योजनाओं के साथ अपडेट रहेंगे|

Related Posts
दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना| संपूर्ण जानकारी... दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना|दीनदयाल अंत्योदय योजना|दीनदयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन|दीन दयाल अंत्योदय योजना|Deendayal Antyoda...
अटल पेंशन योजना 2019|ऑनलाइन अप्लाई|Atal pension yo... अटल पेंशन योजना (एपीवाई)Atal pension yojana in hindi|अटल पेंशन योजना online अटल पेंशन योजना जन धन योजना के कामयाब होने के बाद शुरू की गई है। अटल पेंश...
ग्राम संवाद मोबाइल एप्प लांच प्रधानमंत्री |डाउनलोड... ग्राम संवाद मोबाइल एप्प लांच प्रधानमंत्री|डाउनलोड|प्रधानमंत्री ग्राम संवाद मोबाइल एप्प लांच|ग्राम संवाद मोबाइल एप्प| ग्राम संवाद मोबाइल एप्प डाउनलोड ...
राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज पोर्टल आवेदन |national-s... राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज पोर्टल रजिस्ट्रेशन|खेल प्रतिभा खोज पोर्टल|national-sport-talent-portal-online-registration मोदी सरकार देश में छुपी खेल प्रत...
CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (8)
  • comment-avatar
    mahi saini 1 year

    main ESIC Insured Person hu.. Hal hi me es mahine ki 07 sep. 18 ko hamri Nokari chali gai or ab Berojagr ho gaye. Aap ye btao ki Nai nokari milne tak es yojna ka labh kese liya ja sakta hai.. Yani ki kese ye benefit hmare acount me aayega.

  • comment-avatar
    Rattu prasad kushwaha 1 year

    Anshuman yojna me mitra mujhe banana h kese ban sakta hoo

  • comment-avatar
    Usha jain 1 year

    Agar pregnancy hai or aapki job chali gayi h or aap esic se connect hai to Kya profit milega or Kya karyvahi Karni hogi? Labh lene k liye

  • Disqus ( )
    error: Content is protected !!